एक ही परिवार से निकले 4 अफसर बच्चे, देश के लिए बने गौरव, जानिए कौन हैं ये सूरमा ?

एक कहावत तो आपने सुनी ही होगी कि जहां चाह वहां राह ऐसा ही उदाहरण पेश कर दिखाया है उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के एक छोटे से गांव में रहने वाले एक परिवार ने जहां एक ही परिवार के 4 बच्चे अफसर बन गए ।मिली जानकारी के हिसाब से 4 भाई-बहनों में 3 IAS और एक IPS हैं। ये बच्चे लालगंज कोतवाली इलाके के इटौरी गांव के रहने वाले हैं। इनके पिता ने अपने बच्चों को बैंक की नौकरी से मिलने वाले वेतन से पाला है। मिली जानकारी के अनुसार इनके परिवार  की आर्थिक स्थिति भी  बहुत ही सामान्य है। अनिल मिश्र के चार बच्चे हैं  जिसमें दो लड़के और दो लड़कियां शामिल हैं। सबसे बड़ी क्षमा मिश्रा सबसे बड़ी बेटी थी, जबकि दूसरे नंबर पर योगेश,  तीसरे बेटी के रूप में माधवी व चौथे नंबर पर लोकेश मिश्र थे।

एक नजर इस परिवार की ओर

अति पिछड़े गांव में शुमार इटौरी गांव के रहने वाले परिवार के बच्चों ने कुछ ऐसा कर दिखाया है जिसे देश जानना चाहता है। आपको बता दें कि सबसे पहले योगेश ने 2013 में यूपीएससी सिविल परीक्षा पास करके अपने परिवार का मान बढ़ाया। वो IAS बन गए। जिसके बाद 2015 में  माधवी मिश्रा भी IAS बन गयीं। वहीं जून 2016 में क्षमा मिश्रा का IPS में सेलेक्शन हो गया।  इसी प्रकार अनिल मिश्र ने चारों बच्चों आज IPS और IAS हैं। प्रतापगढ़ जैसे छोटे शहर के रहने वाले चारों भाई-बहन आज प्रतापगढ़ और प्रदेश के लिए सकारात्मक चर्चा का विषय हैं। इसी के चलते लोग अब उनके परिवार के बच्चों की तारीफ करते नहीं थकते हैं।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.