एकबार फिर इंग्लैंड ने रचा इतिहास, भारतीय टीम का टूटा सपना

भारतीय क्रिकेट टीम के 15 साल पुराने सपने पर इंग्लैंड ने पानी फेर दिया है। जो रूट और जॉनी बेयरस्टो की धमाकेदार पारियों की बदौलत इंग्लैंड की टीम ने एजबेस्टन टेस्ट में टीम इंडिया को 7 विकेट से रौंद दिया है। इसके साथ ही बेन स्टोक्स की अगुवाई में मेजबान टीम टेस्ट सीरीज 2-2 से ड्रॉ करने में सफल रही। गौरतलब है कि भारत सीरीज बचाने में कामयाब हो गया है। इंग्लैंड ने चौथी पारी के दौरान कठिन लक्ष्य को महज तीन विकेट खोकर ही पूरा कर लिया है।

यह भी पढ़ें: PSEB Punjab Board ने जारी किया 10वीं का रिजल्ट, लड़कियों ने फिर मारी बाजी

आपको बता दें कि 5वें दिन इंग्लैंड को जीत हासिल करने के लिए 119 रनों की जरूरत थी। रूट-बेयरस्टो की विस्फोटक पारी से इंग्लैंड ने लंच से पहली ही  इस रोमांचक मुकाबले को अपने नाम कर लिया है। चौथी पारी में जो -रूट ने नाबाद 142 और जॉनी बेयरस्टो ने 114* रन बनाए। आज से 15 साल पहले राहुल द्रविड़  की कप्तानी वाली  टीम ने अंग्रेजों  को उन्हीं की सरजमीं पर मात दी थी।

15 सालों का सपना टूटा

भारतीय टीम ने 15 साल बाद इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में जीतने का सपना टूट गया है। रोहित शर्मा और केएल राहुल के अनुपस्थिति में ऐसा माना जा रहा था कि टीम इंडिया कम से कम टेस्ट ड्रॉ तो कर ही लेगी लेकिन इंग्लैंड के आक्रामक खेल के आगे टीम इंडिया की हालत पतली दिखाई दी और भारतीय टीम मात खा गई है।

इंग्लैंड ने आखरी दिन बदला मैच का रूख               

इंग्लैंड की टीम ने 145 सालों के इतिहास में 5वीं बार टेस्ट क्रिकेट में 300 से ज्यादा का रन चेज करने का रिकॉर्ड कायम कर लिया है। आपको बता दें कि इससे पहले इंग्लैंड ने 2019 में लीड्स में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 359 रन बनाकर मैच जीता था। इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो ने टेस्ट करियर का 12वां जड़ते हुए एजबेस्टन टेस्ट की पहली पारी में भी बेयरस्टो ने टीम की तरफ से सबसे ज्यादा 106 रनों की पारी खेली। इस शतक ने  ही ये मैच भारत के हाथों से छीन लिया है।

यह भी पढ़ें: अखिलेश यादव ने लोकतंत्र मजबूत करने के लिए सदस्यता अभियान की शुरुआत, योगी सरकार के 100 दिन पर साधा निशाना

रिपोर्ट: निशांत

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.