Advertisement

Krishna Janmashtami 2023: 6 सितंबर को मनाई जाएगी जन्माष्टमी, जानें श्रीकृष्ण की पूजा का शुभ मुहूर्त

Share
Advertisement

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व हर साल भाद्रपद महीने में मनाया जाता है जिसे आम भाषा में भादो का महीना कहते हैं, श्रीकृष्ण की अराधना व उपासना के लिए भी भादो का महीना बहुत ही खास माना गया है। लेकिन इस साल कृष्ण जन्माष्टमी की तरीख को लेकर लोगों के बीच काफी कंफ्यूजन है। ऐसे में आइए जानते कब मनाई जाएगी कृष्ण जन्माष्टमी और इसका महत्व क्या है।

Advertisement

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी 2023 शुभ मुहूर्त

जन्माष्टमी के दिन भगवान श्रीकृष्ण का पूजन मध्यरात्रि में किया जाता है क्योंकि उनका जन्म मध्यरात्रि में हुआ था, 6 सितंबर को श्रीकृष्ण की पूजा का शुभ मुहूर्त केवल 46 मिनट का रहेगा। जो की मध्यरात्रि 12 बजकर 48 मिनट से लेकर मध्यरात्रि 12 बजकर 48 मिनट तक रहेगा। इस व्रत का पारण अगले दिन 7 सितंबर को सुबह 6 बजकर 9 मिनट पर होगा.

भाद्रपद की अष्टमी तिथि के दिन भगवान कृष्ण का जन्म हुआ था और इसलिए इसे कृष्ण जन्माष्टमी कहते हैं. हिंदी पंचांग के अनुसार इस साल यह तिथि 6 सितंबर को दोपहर 3 बजकर 37 मिनट पर शुरू होगी और इसका समापन 7 सितंबर को शाम 4 बजकर 14 मिनट पर होगा।

 धर्म पुराणों के अनुसार श्रीकृष्ण का जन्म रात्रि के समय रोहिणी नक्षत्र में हुआ था. इसलिए इस साल कृष्ण जन्माष्टमी 6 सितंबर को मनाई जाएगी. इस दिन सुबह 9 बजकर 20 मिनट पर रोहिणी नक्षण शुरू होगा जो कि 7 सितंबर को सुबह 10 बजकर 25 मिनट पर समाप्त होगा. बता दें कि जन्माष्टमी का त्योहार आमतौर पर दो दिन मनाया जाता है। गृहस्थ लोग 6 सितंबर को जन्माष्टमी मनाएंगे और वैष्णव संप्रदाय में 7 सितंबर के कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव मनाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *