Advertisement

Sandeshkhali Violence: स्मृति ईरानी ने सुनाई महिलाओं की आपबीती, TMC को भी जमकर घेरा

Samriti Irani on Sandeshkhali Violence,
Share
Advertisement

Sandeshkhali Violence: पश्चिम बंगाल के 24 परगना जिले में स्थानीय महिलाएं लगातार विरोध प्रदर्शन कर रही हैं। महिलाएं प्रदर्शन कर मांग कर रही हैं कि प्रशासन जल्द से जल्द तृणमूल कांग्रेस नेता शेख शाहजहां और उसके सहयोगियों को गिरफ्तार करे। महिलाओं के विरोध प्रदर्शन को बढ़ता हुआ देखते हुए प्रशासन की ओर से सभी संवेदनशील स्थानों पर इंटरनेट पर लगे बैन को बढ़ा दिया गया है, ताकि कोई भी अप्रिय घटना ना घटे। वहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने महिलाओं के प्रदर्शन पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

Advertisement

sandeshkhali Violence: प्रशासन ने जारी किया बयान

बता दें कि प्रशासन ने प्रदर्शन पर बयान जारी करते हुए कहा है कि मौजूदा तनाव पर रोक लगानेे के मकसद से इंटरनेट पर लगी रोक की अवधि को बढ़ाया गया है। शनिवार (10 फरवरी) से ही अलग-अलग जगहों पर धारा 144 लागू कि गई हैं। पश्चिम बंगाल के गवर्नर सीवी आनंद बोस मौजूदा स्थिति का जायजा लेने संदेशखाली पहुंचे थे। यही नहीं, विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी भी बीजेपी विधायकों के समूह के साथ संदेशखाली जाएंगे।

संदेशखाली हिंसा पर बोलीं स्मृति इरानी

संदेशखाली हिंसा पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने प्रैस कॉन्फेंस की। स्मृति इरानी ने कहा कि ”संदेशखाली में कुछ महिलाओं ने मीडिया को अपनी आपबीती सुनाई। उन्होंने कहा कि टीएमसी के गुंडे हर घर में सबसे खूबसूरत महिला की पहचान करने के लिए घर-घर गए। चिन्हित महिलाओं से कहा गया कि भले ही तुम पति हो, लेकिन अब तुम्हारा अपनी पत्नी पर कोई अधिकार नहीं है. वे हर रात महिलाओं का अपहरण कर लेते थे। जब तक हम संतुष्ट नहीं हो जाते, हमें नहीं छोड़ते। ये आरोप महिलाओं ने लगाए हैं। क्षेत्र का दलित, एसटी, मछुआरा और किसान समुदाय।”

 CPI(M) भी कर रहा विरोध प्रदर्शन

बता दें कि CPI(M) ने भी पार्टी के पूर्व विधायक निरापद सरदार की गिरफ्तारी की मांग को लेकर 12 घंटे का बंद बुलाया है। निरापद पर स्थानीय महिलाओं को तृणमूल नेता शिबू हाजरा और उसके सहयोगी शाहजहां के पोल्ट्री फार्म और फार्महाउस को जलाने के लिए भड़काने का आरोप लगा है। 

ये भी पढ़ें- Maharashtra News: बीजेपी का कांग्रेस पर हमला, बोले- राहुल दे रहे हैं OBC समुदाय को गाली

Hindi Khabr App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरो को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिन्दी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *