Advertisement

विदेश मंत्रालय ने अमेरिका में सिख अलगाववादी नेता की हत्या मामले में ये कहा..

PC: ANI, अरिंदम बागची

Share
Advertisement

भारतीय विदेश मंत्रालय (Ministry of Foreign Affairs) ने कहा है कि अमेरिका की अदालत (American Court) में अभियोग भारतीय अधिकारी (Indian Officer) के खिलाफ़ नहीं लाया गया है. भारत को अमेरिका से क्या इनपुट मिले हैं इसकी जानकारी सार्वजनिक नहीं किया जा सकता.

Advertisement

भारतीय अधिकारी के खिलाफ नहीं चलाया जा रहा अभियोग- बागची MEA

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने एक सवाल के जवाब में कहा है, “एक बात साफ करना चाहता हूं कि अमेरिकी अदालत में अभियोग भारतीय अधिकारी के खिलाफ नहीं चलाया जा रहा है. हमें जो इनपुट मिले हैं वो हम साझा नहीं कर सकते लेकिन अगर आप कानूनी केस की बात कर रहे हैं तो एक व्यक्ति पर अमेरिकी अदालत में आरोप लगाए गए हैं.”

ड्रग रैकेट और नेक्सस के एंगल की हो रही है जांच

“ये आरोप लगाया जा रहा है कि वह शख्स भारतीय अधिकारी के साथ काम कर रहे थे जो एक चिंता का विषय है. हम बार बार कह चुके हैं ये भारत की नीति नहीं है. हमारी उच्च स्तरीय जांच पैनल ड्रग रैकेट और सुनियोजित अपराध के नेक्सस के एंगल से भी मामले की जांच करेगी.”

सिख अलगाववादी नेता की हत्या का साजिश के पर्दाफाश का दावा

अमेरिका ने अमेरिकी जमीन पर एक सिख अलगाववादी नेता और अमेरिकी नागरिक की हत्या की साजिश के पर्दाफाश का दावा किया है.

निखिल गुप्ता नाम के एक शख़्स पर आरोप हैं कि उन्होंने एक किराए के हत्यारे को एक लाख डॉलर (लगभग 83 लाख रुपये) कैश के बदले अलगाववादी नेता की हत्या का कॉन्ट्रेक्ट दिया. आरोप हैं कि निखिल गुप्ता को एक भारतीय अधिकारी निर्देशित कर रहे थे. अभियोग में भारतीय अधिकारी का नाम नहीं है.

18 नवंबर को भारत ने इन आरोपों की जांच के लिए एक उच्च स्तरीय जांच पैनल का गठन किया है.

ये भी पढ़ें: इजरायल और हमास के बीच जारी है युद्ध विराम की डील, एक दिन और बढ़ा Ceasefire

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *