Advertisement

महुआ की बढ़ीं मुश्किलें, अब सीबीआई ने कैश फॉर क्वेरी मामले में शुरू की जांच

Share
Advertisement

New Delhi: सांसद महुआ मोइत्रा की मुश्किलें कम होती दिखाई नहीं दे रही हैं। संसद में रिश्वत लेकर सवाल पूछने के मामले में केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) ने मोइत्रा के खिलाफ जांच शुरू कर दी है। यह जानकारी सीबीआई सूत्रों के द्वारा आई है।

Advertisement

निशिकांत दुबे ने लगाया था आरोप

सनद रहे कि लोकसभा की आचार समिति ने मोइत्रा की संसद सदस्यता को रद्द करने की सिफारिश की है। दरअसल, भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने तृणमूल सांसद पर संसद में कारोबारी दर्शन हीरानंदानी से पैसे लेकर सवाल पूछने का आरोप लगाया था। जिसके बाद आचार समिति उन पर लगे आरोपों की जांच कर रही है। सनद रहे कि भाजपा सांसद ने महुआ मोइत्रा के खिलाफ शिकायत लेकर लोकपाल का दरवाजा खटखटाया था। दुबे ने महुआ मोइत्रा पर पैसों के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता करने का भी आरोप लगाया था।

महुआ ने आरोपों को किया था खारिज

दुबे ने तृणमूल सांसद पर उपहार के बदले हीरानंदानी के इशारे पर अदाणी समूह और प्रधानमंत्री मोदी को निशाना बनाने के लिए लोकसभा में सवाल पूछने का आरोप लगाया था। हालांकि, महुआ मोइत्रा ने किसी भी गलत काम में शामिल होने से इनकार किया और दावा किया कि उन्हें निशाना बनाया जा रहा है।

संसद सदस्यता को रद्द करने की सिफारिश

सनद रहे कि लोकसभा की आचार समिति ने महुआ मोइत्रा की संसद सदस्यता को रद्द करने की सिफारिश की है। दरअसल, भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने तृणमूल सांसद पर संसद में कारोबारी दर्शन हीरानंदानी से पैसे लेकर सवाल पूछने का आरोप लगाया था। जिसके बाद आचार समिति उन पर लगे आरोपों की जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें – फाइनल अगर विपक्ष शासित राज्यों में खेला गया होता तो हम जीत जाते : राशिद अल्वी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *