राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के एक साल पूरे होने पर पीएम नरेंद्र मोदी शुरू करेंगे कई नए सुधार, जानिए

नई दिल्ली: देश के प्रधानमंत्री (Prime minister) नरेन्‍द्र मोदी (Narendra Modi) के राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति (national education policy) 2020 का एक वर्ष पूरा हो गया हैं। जिसके चलते इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी आज शिक्षा के क्षेत्र में कई नए सुधारों की शुरुआत करेंगे। मालूम हो कि श्री मोदी आज वीडियो कांफ्रेंसिंग (video conferencing) के जरिए देश भर के तमाम शिक्षा और कौशल विकास क्षेत्रों के नीति निर्माताओं, छात्रों और शिक्षकों को भी संबोधित करेंगे।

जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी उच्‍च शिक्षा (Higher education) के छात्रों के लिए पाठ्यक्रमों में शामिल होने और बाहर निकलने के लिए एक बहुविकल्पीय प्रणाली एकेडमिक बैंक ऑफ क्रेडिट (Academic Bank Of Credit) को भी लॉन्च करेंगे। इसके अलावा श्री नरेन्द्र मोदी इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों के प्रथम वर्ष में क्षेत्रीय भाषा शिक्षण के लिए एक योजना और उच्च शिक्षा के अंतर्राष्ट्रीयकरण के लिए दिशा-निर्देशों का भी शुभारंभ करेंगे।

विशेष वेबसाइट जैसी योजनाओं का भी शुभारंभ

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी पहली कक्षा के छात्रों को स्‍कूली शिक्षा के लिए तैयार करने के लिए तीन महीने के प्रशिक्षण कार्यक्रम विद्या प्रवेश और साथ ही माध्‍यमिक स्‍तर पर सां‍केतिक भाषा को विषय के रूप में शामिल करने जैसी योजना का शुभारंभ करेंगे। इसके अलावा राष्‍ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान (National Educational Research) और प्रशिक्षण परिषद (training council) की तरफ से डिजाइन किए गए शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम की निष्‍ठा करेंगे। केन्‍द्रीय माध्‍यमिक शिक्षा बोर्ड- सीबीएसई (Central Board of Secondary Education- CBSE) के स्‍कूलों में तीसरी, पांचवी और आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों की दक्षता के आंकलन का कार्यक्रम सफल जैसी योजनाएं और कंप्यूटर आधारित ज्ञान के लिए एक विशेष वेबसाइट भी लॉन्च करेंगे। गौरतलब है कि इस मौके पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री (Union Education Minister) धर्मेंद्र प्रधान (Dharmendra Pradhan) भी मौजूद रहेंगे।

Share Via

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *