महाराष्ट्र सरकार ने 7 अक्टूबर से सभी धार्मिक स्थलों के खोलने का किया ऐलान, कहा- कोरोना संक्रमण कम हुआ लेकिन खतरा बरकरार

मुंबई: महाराष्ट्र सरकार ने शुक्रवार को यह ऐलान किया है कि राज्य में सभी धार्मिक स्थल 7 अक्टूबर से खोल दिए जाएगें। साथ ही सभी धार्मिक स्थल कोविड19 के प्रटोकॉल के साथ खोले जाएंगे। बता दें कि यह फैसला कोरोना वायरस की महामारी की दूसरी लहर के खत्म होने के संकेतों के बीच लिया गया है।

वहीं, इसकी घोषणा करते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने लोगों से अपील की कि वे महामारी की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए सुरक्षा में ढिलाई न बरतें और उपयुक्त COVID-19 प्रथाओं को अपनाएं। साथ ही उन्होंने कहा है कि ‘राज्य में सभी धार्मिक स्थल सात अक्टूबर से खुलेंगे। महाराष्ट्र सरकार ने तीसरी लहर की तैयारी की है लेकिन एहतियात बरतते हुए राज्य सरकार विभिन्न गतिविधियों में छूट दे रही है।’

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ठाकरे ने बताया है कि राज्य में कोरोना के संक्रमण के मामले कम हो रहे हैं। मगर अब भी कोरोना वायरस का खतरा वना हुआ है। मुख्यमंत्री ठाकरे के कहना है कि ‘कोविड-19 के रोजाना मामलों में भले ही कमी आ रही है लेकिन हर किसी को सावधानी बरतनी चाहिए और कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए।’

मालूम हो कि मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा है कि ‘धार्मिक स्थल खुलने जा रहे हैं। लोगों को मास्क लगाने और हैंड सेनेटाइजर का इस्तेमाल करना चाहिए। इस तरह के उपायों को सुनिश्चित करने के लिए धर्मस्थलों का प्रबंधन जिम्मेदार होगा।’

Share Via

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *