Advertisement

घर में नहीं लगाना चाहिए पीपल का पेड़, जानिए क्या है मान्यता?

Share
Advertisement

हिन्दू धर्म में कई वृक्षों को पवित्र माना जाता है, जिसमें पीपल के पेड़ को बहुत ही पूजनीय स्थान प्राप्त है। मान्यता है कि पीपल के पेड़ पर सभी देवी-देवताओं का वास होता है। पीपल के पेड़ का वर्णन भगवान कृष्ण की गीता में भी मिलता है। 

Advertisement

कहा जाता है कि पीपल के वृक्ष से 24 घंटे ऑक्सीजन मिलती है लेकिन फिर भी इसे लोग अपने घर और आंगन में नहीं लगाते हैं। इस वृक्ष को लेकर अंधविश्वास है कि पीपल के पेड़ पर भूत रहते हैं। यहां हम आपको बताने वाले हैं कुछ महत्व जिनके कारण पीपल के पेड़ को घर में नहीं लगाया जाता है।

पीपल के पेड़ की छाया पड़ना अशुभ

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, घर में पीपल के पेड़ होना या पीपल के पेड़ की छाया पड़ना अशुभ होता है। इससे घर परिवार के सदस्यों की तरक्की में बाधा आती है और घर पर आर्थिक संकट आ सकता है। ऐसे में यदि आपके घर में भी पीपल का पेड़ उग गया है तो रविवार के दिन आप पीपल के पेड़ की पूजा करके उसे कटवा सकते हैं। 

पीपल का पेड़ क्यों नहीं लगाना चाहिए

पीपल का पौधा कुछ ही सालों में एक विशालकाय पेड़ बन जाता है और इसकी जड़ें बहुत दूरी तक फैल जाती हैं। पीपल का पेड़ अगर घर में लगाया जाएगा तो इसकी जड़ें घर की नींव को कमजोर कर सकती हैं। जिससे घर की बुनियाद हिल सकती है। यही कारण है कि इस पेड़ को घर में नहीं लगाया जाता है।

ये भी पढ़ें: Basava Jayanti 2023: क्या है बसव जयंती का महत्व?  कैसे मनाया जाता है उत्सव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें