Advertisement

शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने से हो सकती है गंभीर बीमारियां, इन चीजों से करें परहेज

Share
Advertisement

हाई यूरिक एसिड की समस्या आज के समय में बहुत आम हो गई है। यूरिक एसिड एक प्रकार का केमिकल है जो हमारे शरीर में प्युरीन नामक पदार्थ के वेस्ट को नष्ट करने में मदद करता है।जिसकी वजह से पुरानी बीमारियां पैदा हो जाती है। खराब लाइफस्टाइल, खराब खान पान, पानी का कम सेवन और कैलोरी से भरपूर खाने का सेवन करने से शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बड़ जाती है। हमारे शरीर में यूरिक एसिड का स्तर अधिक होता है, तो यह यूरिक एसिड क्रिस्टल्स के रूप में जमा हो सकते हैं, जिससे गठिया जैसी समस्याएं पैदा हो सकती हैं।

Advertisement

हाई यूरिक एसिड के लक्षण:

1. जोड़ों में दर्द और सूजन

2. गठिया का दर्द

3. शरीर में सूजन और तापमान का बढ़ना

4. मांसपेशियों का दर्द और जलन

5. मूत्र में संक्रमण

6. बढ़े हुए यूरिक एसिड के कारण किडनी में समस्याएं

हाई यूरिक एसिड से होने वाली बीमारियां:

1. गठिया (पोड़ाग्रा): यूरिक एसिड के क्रिस्टल्स जोड़ों में जमा होकर जोड़ों के दर्द और सूजन का कारण बनते हैं।

2. किडनी स्टोन: यूरिक एसिड के अधिक स्तर से किडनी में पथरी बनने की संभावना बढ़ जाती है।

3. समस्याएं किडनी के साथ: यूरिक एसिड के अधिक स्तर से किडनी में कई प्रकार की समस्याएं हो सकती हैं, जैसे कि यूरिन इन्फेक्शन और किडनी की कमजोरी।

यूरिक एसिड की अधिकता के कारण:

1. प्युरीन युक्त आहार (मांस, मछली, दलहन, अन्य प्रकार की सेंधा नमक)

2. शराब की अधिक मात्रा में सेवन

3. अधिक मात्रा में मिश्रित शराब पीना

4. मोटापा या अत्यधिक वजन

5. थायराइड समस्याएं

6. उच्च रक्तचाप

हाई यूरिक एसिड वाले लोगों को निम्नलिखित तरह की चीजों से परहेज करना चाहिए:

1. मासपेशियों का मांस: मटन, मटन के अंग, बकरी का मांस, सुअर का मांस आदि से परहेज करें।

2. फिश और सीफ़ूड्स: श्रीम्प, क्रैब, ओस्ट्रिच, चिंगड़ा, मछली, समुद्री खाद्यपदार्थों का सेवन कम करें।

3. दालें: मासूर दाल, अरहर दाल, मूंग दाल आदि की मात्रा को सीमित करें।

4. खारी चीजें: बाकरवड़ी, समोसा, पिज़्ज़ा, चाट, फास्ट फ़ूड आदि से बचें।

5. आलू और बैंगन: इनका सेवन मात्रा में करें, क्योंकि वे पुरी तरह से नहीं रोके जाने चाहिए।

6. शराब और मदिरा: शराब और मदिरा का सेवन बिल्कुल बंद कर दें।

7. शुगरी खाद्यपदार्थ: मिठाई, चॉकलेट, जैली, शरबत आदि की मात्रा को कम करें।

8. प्रोटीन: दूध, दही, पनीर, सोया प्रोडक्ट्स का सेवन करें।

9. फल: अंजीर, सेब, केला, संतरा, आम आदि का सेवन करें।

10. पानी: पर्याप्त मात्रा में पानी पीना महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह यूरिक एसिड को शरीर से बाहर निकालने में मदद करता है।

कृपया ध्यान दें कि यह एक संक्षिप्त जानकारी है और आपकी विशिष्ट स्थिति पर डॉक्टर से सलाह लेना हमेशा उचित होता है।

यें भी पढ़ें : तेजी से बढ़ रहे आई फ्लू से बच्चों को भी खतरा, ऐसे रखें सुरक्षित

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *