Advertisement

Hair Health: बाल सिर्फ खूबसूरती ही नहीं बताते हैं सेहत भी…

Hair Health
Share
Advertisement

Hair Health: बाल सिर्फ खूबसूरती ही नहीं बल्कि हमारी सेहत के बारे में भी बताते हैं। आजकल गलत खान-पान और रहन-सहन के कारण बाल जल्दी झड़ने लगते हैं। इस वजह से गंजेपन की समस्या बढ़ती जा रही है। न केवल आपके बाल बल्कि आपके सिर या त्वचा की ऊंचाई भी आपके स्वास्थ्य के बारे में बहुत कुछ बता सकती है। ऐसे मामलों में कई लक्षणों को पहचानकर इलाज किया जाना चाहिए। इससे कई समस्याओं से बचा जा सकता है. ऐसे में बालों के बारे में कुछ बाते जानना जरूरी है।

Advertisement

Hair Health: सफेद और पीली डैंड्रफ

डैंड्रफ बालों से जुड़ी एक आम समस्या है। विशेषज्ञों के मुताबिक डैंड्रफ सिर की त्वचा पर फंगस के बढ़ने के कारण होता है। रूसी शुष्क त्वचा मोटापा तनाव शुष्क ठंड के मौसम में एक्जिमा या सोरायसिस के कारण भी हो सकती है। सफेद रूसी खतरनाक नहीं है. इस स्थिति से छुटकारा पाने के लिए आप रोजाना एंटी-डैंड्रफ शैम्पू का इस्तेमाल कर सकते हैं। कई बार आपके सिर पर डैंड्रफ के पीले चिकने धब्बे दिखाई देने लगते हैं।

यह हार्मोनल और फंगल संबंधी सेबोरहाइक डर्मेटाइटिस के लक्षण हो सकते है इसलिए सावधान रहें। कभी-कभी यह पार्किंसंस रोग या एचआईवी जैसी न्यूरोलॉजिकल समस्याओं का संकेत भी हो सकता है। ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए।

Hair Health: कहीं ज्यादा तो नहीं झड़ रहे बाल

बालों का झड़ना एक आम समस्या है जिससे हर कोई परेशान रहता है। विशेषज्ञों का कहना है कि एक दिन में 100 या अधिक बाल गिरना सामान्य है लेकिन यदि आप इससे अधिक झड़ते हैं तो आप टेलोजन एफ्लुवियम से पीड़ित हो सकते हैं। नए बालों का उगना और पुराने बालों का झड़ना प्राकृतिक प्रक्रिया है लेकिन टेलोजन एफ्लुवियम में बाल पैदा करने वाले रोमों की संख्या कम होने लगती है और इस तरह नए बालों के उगने की प्रक्रिया धीमी हो जाती है और बाल पतले होने लगते हैं।

कई लोग ऐसे होते हैं जिनके बाल कई हिस्सों से झड़ते हैं। इसका मतलब है कि उनके बाल इधर-उधर उड़ रहे हैं। यह एलोपेसिया के क्षेत्र में होता है। इससे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली गलती से बालों के रोमों पर हमला कर देती है जिससे बाल सिकुड़ जाते हैं। एलोपेसिया एरीटा खतरनाक या संक्रामक नहीं है लेकिन यह बालों के लिए हानिकारक हो सकता है।

Hair Health: झड़ने से कैसे बचाएं

बालों को धूप से बचाना चाहिए क्योंकि धूप के ज्यादा संपर्क में आने से बाल खराब हो सकते हैं और टूटने लगते हैं। अपने बालों को धूप से बचाने के लिए टोपी या स्कार्फ का प्रयोग करें।

आहार का असर बालों पर पड़ता है। आयरन और प्रोटीन के अलावा आपको ओमेगा-3 फैटी एसिड जिंक और विटामिन ए से भरपूर खाद्य पदार्थ खाने चाहिए। आपको अखरोट बीज पालक गाजर और हरी सब्जियों का सेवन करना चाहिए।

कुछ महिलाएं अपने बालों की अखंडता को बनाए रखने के लिए टाइट ब्रैड या बन पहनती हैं लेकिन इससे उन्हें ट्रैक्शन एलोपेसिया का खतरा होता है। यह बालों के रोमों को नुकसान पहुंचाता है जिससे बाल अत्यधिक झड़ने लगते हैं। बालों को अत्यधिक स्टाइलिंग गर्मी और रसायनों से बचाना चाहिए।

कभी-कभी दवाओं के दुष्प्रभाव के कारण भी बाल झड़ने लगते हैं। एंटीकोआगुलंट्स कोलेस्ट्रॉल कम करने वाले एंटीडिप्रेसेंट गैर-स्टेरायडल सूजनरोधी दवाएं और एंटीबायोटिक्स डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही लेनी चाहिए।

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरो को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए

ये भी पढ़े: Sleeping Disorder: कम सोएंगे तो बिगड़ सकती है सेहत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *