वाराणसी में बीजेपी को प्रियंका की ललकार, बोली- लखीमपुर खीरी कांड में सरकार ने पूरी तरह से उस मंत्री के बेटे का किया बचाव

उत्तर प्रदेश: वाराणसी में किसान न्याय रैली में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री व आगामी उत्तर प्रदेश चुनाव के लिए पार्टी के वरिष्ठ पर्यवेक्षक भूपेश बघेल पहुंचे। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंची।

वाराणसी में बीजेपी को प्रियंका की ललकार

वाराणसी में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने बीजेपी पर तंज कसते हुए कहा कि हमारे प्रधानमंत्री दुनिया के कोने-कोने तक घूम सकते हैं लेकिन अपने किसानों से बात करने के लिए अपने घर से मात्र 10 किलोमीटर दूर दिल्ली के बॉर्डर तक नहीं जा सकते?

लखीमपुर खीरी कांड में सरकार ने पूरी तरह से उस मंत्री के बेटे का किया बचाव: वाड्रा

आगे उन्होनें कहा कि समय आ गया है, अब चुनाव की बात नहीं है देश की बात है। ये देश भाजपा के पदाधिकारियों, उनके मंत्रियों और उनके प्रधानमंत्रियों की जागीर नहीं है। इस देश के गृह राज्य मंत्री के बेटे ने अपनी गाड़ी के नीचे 6 किसानों को निर्ममता से कुचल दिया और सब परिवार ये कहते हैं कि हमें मुआवज़ा नहीं न्याय चाहिए। लेकिन हमें न्याय दिलाने वाला इस सरकार में नहीं दिख रहा है।

प्रधानमंत्री लखनऊ आ सकते थे वो दो घंटे की दूरी पर लखीमपुर नहीं जा सकते: प्रियंका गांधी

किसान न्याय रैली में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने आगे कहा कि यहां के मुख्यमंत्री मंच पर बैठे हुए उस मंत्री(गृह राज्य मंत्री) का बचाव कर रहे हैं जिसके बेटे ने ऐसा काम(लखीमपुर खीरी की घटना) किया है। जो प्रधानमंत्री लखनऊ आ सकते थे वो दो घंटे की दूरी पर लखीमपुर नहीं जा सकते उन किसानों के आंसू पोंछने के लिए?

वाड्रा ने आगे कहा कि यह स्थिति पूरे देश में होगी, जब इनके कानून लागू होंगे तो आपकी खेती, आपकी फसल सब आपसे छीना जाएगा। मोदी जी के अरबपति मितरों ने पिछले साल हिमाचल से सेब 88 किलो में खरीदा था, इस साल वही सेब 72 किलो में खरीद रहे हैं। सबकी मजबूरी हो गई है कि वो सेब का दाम घटाएं। किसान की लागत बढ़ गई है, क्योंकि फसल की कीमत तय करने का फैसला अब खरबपति तय कर रहे हैं। ये आंदोलन इसलिए कर रहे हैं क्योंकि ये जानते हैं कि सरकार के तीन काले कानून के जरिये उनकी आमदनी, उनके खेत, उनकी फसल सब इनके मितरों के पास जाने वाली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *