CM योगी ने अंत्योदय राशन कार्ड धारकों को वितरण किए आयुष्मान कार्ड, बोले- प्रदेश के 40 लाख से अधिक परिवारों को यह सुविधा हो रही उपलब्ध

लखनऊ:  मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान के अंतर्गत अंत्योदय राशन कार्ड धारकों को आयुष्मान कार्ड वितरण एवं प्रदेश के कोविड प्रबंधन पर @IITKanpur द्वारा प्रकाशित पुस्तक का विमोचन करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना से देश में 50 करोड़ लोगों को प्रतिवर्ष 5 लाख रुपए का स्वास्थ बीमा मिल रहा है। उत्तर प्रदेश के अंदर प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से 6 करोड़ लोग इससे जुड़े।

CM योगी ने अंत्योदय राशन कार्ड धारकों को वितरण किए आयुष्मान कार्ड

मुख्यमंत्री @myogiadityanath ने लखनऊ में आयुष्मान कार्ड वितरण व आई.आई.टी. कानपुर की पुस्तक का विमोचन करते हुए कहा कि 2011 जनगणना और SECC सर्वे के अनुसार कुछ लोग इसमें छूट गए थे। वह लोग अपने आप को उपेक्षित महसूस न करें इसलिए राज्य सरकार ने करीब 45 लाख लोगों को जोड़ा था। बाद में हमने तय किया कि अंत्योदय राशन कार्ड परिवार धारकों को, जो इससे वंचित रह गए हैं, उनको भी जोड़ंगें।

प्रदेश के 40 लाख से अधिक परिवारों को यह सुविधा हो रही उपलब्ध: CM

आगे सीएम बोले कि प्रदेश के 40 लाख से अधिक अंत्योदय परिवार जो प्रधानमंत्री जन आरोग्य यानि ‘आयुष्मान भारत’ योजना से आच्छादित नहीं हो रहे थे, आज उन्हें मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत लाने का कार्यक्रम चल रहा है। इससे प्रदेश की एक बड़ी आबादी लाभान्वित होगी। निवासी हो या प्रवासी, @UPGovt ने प्रदेश के समस्त श्रमिकों को 02 लाख का सामाजिक सुरक्षा बीमा एवं 05 लाख का स्वास्थ्य बीमा का कवर दिया है।

अंत्योदय राशन कार्ड धारकों को आयुष्मान कार्ड बांटने के कार्यक्रम के दौरान उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश के 40 लाख से अधिक परिवारों को यह सुविधा उपलब्ध हो रही है, जिसमें 01 करोड़ से अधिक लोग लाभान्वित होंगे। इस अवसर पर समस्त आच्छादित नागरिकों व आने वाले समय में आच्छादित होने वाले लोगों को मैं हृदय से बधाई व शुभकामनाएं देता हूं।

देश के प्रत्येक व्यक्ति को 05 लाख की स्वास्थ्य बीमा कवर मिले: UP CM

इसी के साथ उन्होनें कहा कि आदरणीय प्रधानमंत्री का सपना है कि देश के प्रत्येक व्यक्ति को 05 लाख की स्वास्थ्य बीमा कवर मिले, देश की सबसे बड़ी आबादी का राज्य इस लक्ष्य की प्राप्ति हेतु तेजी से अग्रसर है। ‘आयुष्मान भारत’ ने आमजन के मन में जागरूकता के साथ-साथ जीने की एक नई राह दिखाई है। हम आभारी हैं PM जी के जिन्होंने इस योजना के अंतर्गत पात्र नागरिकों को सरकारी एवं सूचीबद्ध निजी अस्पतालों में प्रतिवर्ष 5 लाख तक का इलाज मुफ्त कराने की सुविधा दी है।

आगामी 05 महीनों में प्रदेश के समस्त जनपदों में एक-एक मेडिकल कॉलेज होगा: मुख्यमंत्री

CM बोले कि 16 जनपदों में भी PPP मोड पर मेडिकल कॉलेज की स्थापना की दिशा में @UPGovt अग्रसर है। आगामी 05 महीनों में प्रदेश के समस्त जनपदों में एक-एक मेडिकल कॉलेज होगा। देश की आजादी के बाद से 2017 तक उत्तर प्रदेश में केवल 12-15 मेडिकल कॉलेज बन पाए थे। आज मुझे बताते हुए प्रसन्नता है कि वर्तमान में 49 जनपदों में सरकारी/प्राइवेट मेडिकल कॉलेज का एक अच्छा हेल्थ इंस्फ्रास्ट्रक्टर खड़ा करने में हम सफल हुए। कोविड काल के दौरान हमने उत्तर प्रदेश के अस्पतालों में संक्रमित रोगियों के उपचार हेतु 1.80 लाख बेड्स उपलब्ध कराए। आज हम प्रतिदिन 04 लाख कोविड सैंपल की टेस्टिंग की क्षमता को विकसित कर चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *