CM कैप्टन अमरिन्दर ने खट्टर को कहा- ‘‘आप कृषि कानून रद्द कर दो, फिर न सिर्फ किसान बल्कि मैं भी आपको खिलाऊँगा लड्डू’’

चण्डीगढ़:  पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने हरियाणा में अपने समकक्ष द्वारा किसानों के आंदोलन की जि़म्मेदारी पंजाब के ऊपर डालते हुए शांतमयी रोष प्रकट कर रहे किसानों पर किए गए आपराधिक हमले के पक्ष के बचाव की कड़ी निंदा की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि एम.एल. खट्टर की टिप्पणियों ने हरियाणा सरकार के किसान विरोधी एजंडे का पर्दाफाश कर दिया है।

CM कैप्टन ने किसानों पर किए गए आपराधिक हमले के पक्ष के बचाव की कड़ी निंदा की

किसानों की नाराजग़ी के लिए सीधे तौर पर भाजपा को जि़म्मेदार ठहराते हुए कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि संकट इस हद तक गहराया ना होता, यदि हरियाणा के मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री समेत भारतीय जनता पार्टी ने शांतमयी किसानों पर हुए घृणित हमले के लिए शर्मनाक ढंग से झूठ बोलने की बजाय किसानों की चिंताओं की तरफ ध्यान दिया होता और उनके दर्द का एहसास होता। उन्होंने खट्टर के इस दावे को भी रद्द कर दिया कि किसानों द्वारा राज्य की अमन-शांति में गड़बड़ी पैदा किए जाने के बाद ही हरियाणा पुलिस ने अपने बल का प्रयोग किया था।

एस.डी.एम. यह बात किस तरह जानता है कि किसानों का इरादा पत्थर आदि फेंकने का : CM

कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने हरियाणा के नेताओं को कहा, ‘‘आपको यह नहीं दिखता कि आपके अपने राज्य के किसान उनके प्रति उदासीन रवैया अपनाने और कृषि कानून रद्द करने के लिए आपकी पार्टी द्वारा टस से मस ना होने के कारण वह आप से खफ़़ा हैं?’’ उन्होंने आगे कहा कि किसान अपनी होंद की लड़ाई लड़ रहे हैं और उनको अपने और अपने परिवारों की रक्षा के लिए पंजाब या किसी अन्य राज्य के उकसावे में आने की ज़रूरत नहीं है।  रिपोर्ट- ईशा ठाकुर

Share Via

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *