Advertisement

Suspension of opposition in parliament: विपक्ष विहीन संसद भी ठीक व्यवस्था नहीं- मायावती

MAYAWATI ON SUSPENSION OF MPs

MAYAWATI ON SUSPENSION OF MPs

Share
Advertisement

Suspension of opposition in parliament: भारतीय संसद से अब तक 143 सांसदों को निलंबित किया जा चुका है। जिसमें 118 लोकसभा और 25 राज्यसभा के सांसद हैं। सांसदों के निलबंन से सियासी गलियारों में हलचल मची हुई है। किसी का कहना है कि मोदी सरकार ‘विपक्ष मुक्त’ संसद देखना चाहती है, इसीलिए उसने ये कदम उठाया है। तो कोई भाजपा पर तंज कसते हुए इसे सांसदों का नहीं वल्कि लोकतंत्र का निलंबित होना बता रहा है।

Advertisement

मायावती ने बीजेपी पर साधा निशाना

ऐसे में बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी इस मामले पर अपनी राय जाहिर की। मायावती ने बीजेपी पर निशाना साधा। निलंबन के बारे में पूछे जाने पर मायावती ने कहा, “सरकार को इस मामले पर सख्त रुख नहीं अपनाना चाहिए और बातचीत के जरिए मुद्दे का समाधान करना चाहिए। मामला पिछले संसद सत्र का है और अब शीतकालीन सत्र चल रहा है।

मायावती ने आगे कहा कि विपक्ष विहीन संसद ठीक व्यवस्था नहीं है। हालांकि, उन्होंने कहा कि संसद की सुरक्षा में चूक होना भी एक गंभीर मामला है।

जगदीप धनखड़ के अपमान को लेकर कही यह बात

उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ के अपमान को लेकर भी दुःख जाहिर किया है। उन्होंने कहा कि सभापति का अपमान पूरे सदन और लोकतंत्र का अपमान है। वहीं संसद की सुरक्षा चूक मामले में मायावती ने कहा कि यह घटना बेहद ही दुर्भाग्यपूर्ण थी। इससे पहले भी ऐसे घटनाएं हो चुकी हैं। उन्होंने सरकार और लोकसभा अध्यक्ष से अपील करते हुए कहा कि इस मामले की कड़ाई से जांच हो और जो भी दोषी हों, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

INDIA गठबंधन में शामिल होने पर दिया जवाब

वहीं लोकसभा चुनावों में INDIA गठबंधन में शामिल होने पर मायावती ने कहा कि उनकी पार्टी BSP इसमें शामिल नहीं होगी। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों अफवाह फैलाई गई थी कि हमारी पार्टी इसमें शामिल हो रही है। मायावती ने कहा कि विपक्ष के गठबंधन में जो दल शामिल नहीं हैं, उनके खिलाफ किसी भी तरह की टीका-टिप्पणी करना ठीक नहीं है। 

सांसदों को इसलिए किया गया निलंबित

 बता दें कि ये विपक्षी सांसद संसद में दो लोगों के घुस आने की घटना के बाद इस पर सदन की बहस की मांग कर रहे थे। संसद में ‘सुरक्षा चूक’ को लेकर वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मौजूदगी में गृह मंत्री अमित शाह के बयान की मांग कर रहे थे। कुछ सांसदों ने अमित शाह से इस्तीफा देने की भी मांग की थी।

ये भी पढ़ें: Deoria: मकान में धमाके से मचा हड़कंप, दीवार हो गई ध्वस्त

Follow us on: https://www.facebook.com/HKUPUK

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *