प्रदेश में कोरोना के मिल रहे अधिक केस, सार्वजनिक स्थानों पर मास्क जरूरी: CM योगी  

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Aadityanath) ने उच्च स्तरीय टीम-9 (Team Nine) को दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि ट्रैक, टेस्ट, ट्रीट और टीकाकरण की नीति के सफल क्रियान्वयन से उत्तर प्रदेश (Uttar Pardesh) में कोविड (Covid) पर प्रभावी नियंत्रण बना हुआ है।

Share This News
Yogi Aadityanath

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Aadityanath) ने उच्च स्तरीय टीम-9 (Team Nine) को दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि ट्रैक, टेस्ट, ट्रीट और टीकाकरण की नीति के सफल क्रियान्वयन से उत्तर प्रदेश (Uttar Pardesh) में कोविड (Covid) पर प्रभावी नियंत्रण बना हुआ है। वर्तमान में प्रदेश में कुल 1567 एक्टिव केस हैं। इसमें 1487 लोग घर पर ही स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर रहे हैं। टेस्ट की संख्या बढ़ाये जाने की जरूरत है।

हमीरपुर और ललितपुर में भी दहाई अंक में नए केस की पुष्टि

CM बोले पिछले 48 घंटे में पूरे प्रदेश में 305 नए केस की पुष्टि हुई, जिसमें गौतमबुद्ध नगर में 124, गाजियाबाद में 41, लखनऊ में 23, आगरा में 20 नए केस शामिल हैं। इसी अवधि 771 लोग स्वस्थ भी हुए। हमीरपुर और ललितपुर में भी दहाई अंक में नए केस की पुष्टि हुई है। इनके कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और ट्रैवल हिस्ट्री का आकलन भी किया जाए। जिन जिलों में केस अधिक मिल रहे हैं वहां सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क लगाया जाना अनिवार्य कर दिया है। इसका प्रभावी अनुपालन कराया जाए।

वयस्कों के बूस्टर डोज लगाए जाने को और तेज किए जाने की जरूरत

आगे उन्होनें कहा उत्तर प्रदेश में अब तक कोविड टीके की 31 करोड़ 76 लाख डोज लगाई जा चुकी है। जबकि 11 करोड़ 21 लाख से अधिक कोविड टेस्ट भी किए जा चुके हैं। 18+ आयु की पूरी आबादी को टीके की कम से कम एक डोज लग चुकी है, जबकि 89% वयस्क लोगों को दोनों खुराक मिल चुकी है। 15 से 17 आयु वर्ग में 95.74% से अधिक किशोरों को पहली खुराक मिल चुकी है और 69.17% किशोरों को दोनों डोज लग चुकी है। 12 से 14 आयु वर्ग में 68% से अधिक बच्चे टीकाकवर पा चुके हैं। बच्चों के टीकाकरण और वयस्कों के बूस्टर डोज लगाए जाने को और तेज किए जाने की जरूरत है।

कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और ट्रैवल हिस्ट्री का भी किया जाए आकलन

सीएम योगी (Yogi Aadityanath) बोले गांवों में स्वास्थ्य सुविधाओं/सेवाओं की सहज उपलब्धता के लिए ‘मुख्यमंत्री अयोग्य मेले’ सार्थक सिद्ध हो रहे हैं। अब तक 43 मेलों का आयोजन हो चुका है, जहां 01 करोड़ से अधिक लोगों ने विभिन्न स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ लिया। विगत रविवार को लगभग 1.21 लाख लोगों ने आरोग्य मेले का लाभ उठाया। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर आयोजित होने वाले आरोग्य मेलों से अधिकाधिक लोगों को लाभान्वित कराया जाए।

Read Also:- अपनी दलाली बंद करें, अधिकारियों को हम देख लेंगे- सीएम योगी

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.