Advertisement

भारत का भी गाजा जैसा हो सकता है हश्र: फारूक अब्दुल्ला

Share
Advertisement

Farooq Abdullah’s Warning: नेशनल कॉन्फ्रेंस के सांसद और जम्मू और कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि अगर भारत ने पाकिस्तान के साथ बातचीत के जरिए कोई समाधान नहीं निकाला तो उसका हश्र गाजा और फिलिस्तीन जैसा ही हो सकता है, जिन पर इजरायली सेना बमबारी कर रही है। पूर्व मुख्यमंत्री ने यह भी कहा, “अगर हम अपने पड़ोसियों के साथ मित्रतापूर्ण रहेंगे, तो दोनों प्रगति करेंगे।”

Advertisement

Farooq Abdullah’s Warning: दोस्त बदल सकते हैं पड़ोसी नहीं

न्यूज़ एजेंसी एएनआई ने अब्दुल्ला के हवाले से कहा, “अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा था कि हम अपने दोस्त बदल सकते हैं लेकिन अपने पड़ोसी नहीं। यदि हम अपने पड़ोसियों के साथ मित्रवत रहेंगे तो दोनों प्रगति करेंगे। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा कि युद्ध अब कोई विकल्प नहीं है और मामलों को बातचीत के माध्यम से हल किया जाना चाहिए”।

Farooq Abdullah’s Warning: गाजा जैसा होगा हश्र

पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला ने आगे कहा, “बातचीत कहां हो रही है? नवाज शरीफ, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बनने वाले हैं और वे कह रहे हैं कि हम भारत के साथ बात करने के लिए तैयार हैं, लेकिन क्या कारण है कि हम बात करने के लिए तैयार नहीं हैं? अगर हम बातचीत के माध्यम से समाधान नहीं खोजें तो हमारा भी वही हश्र होगा जो गाजा और फिलिस्तीन पर होगा, जिन पर इजराइल बमबारी कर रहा है”।

Farooq Abdullah’s Warning: आतंकी हमले के बीच बयान

फारूक अब्दुल्ला का यह बयान हाल में जम्मू के पुंछ में हुए आतंकवादी हमले के बीच आया है। पुंछ में घात लगाकर किए गए हमले में भारतीय सेना के पांच जवान शहीद हो गए थे। वहीं बारामूला मस्जिद के अंदर एक सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी और पूछताछ के लिए सैनिकों द्वारा हिरासत में लिए जाने के बाद तीन नागरिक मृत पाए गए थे।

ये भी पढ़ें- Bihar News: सोशल मीडिया से दूरी ने दिलाई बिहार के इस बेटी को कामयाबी, जानें पूरी कहानी…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *