CM गहलोत के आवास पर हुई कैबिनेट बैठक में कन्हैयालाल के दोनों बेटों को सरकारी नौकरी के प्रस्ताव पर लगी मुहर

Udaipur Murder Case: राजस्थान के उदयपुर में हुए कन्हैयालाल के बेरहमी से मर्डर के बाद सीएम अशोक गहलोत उनके परिवार से मिलकर दोनों बच्चों को सरकारी नौकरी देने का वादा किया था। जिसके बाद आज फिर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज मुख्यमंत्री आवास में हुई कैबिनेट बैठक में इसका फैसला किया है। बता दें इस कैबिनेट बैठक में आए सभी मंत्रियों ने इस प्रस्ताव पर सहमति जताई है।

यह भी पढ़ें: वेस्टइंडीज दौरे के लिए टीम India का हुआ ऐलान Sanju Samson और Deepak Hooda को मिला मौका

इससे पहले प्रदेश सरकार ने कन्हैयालाल के परिवार से मिलकर उनको 51 लाख रुपये की चेक भी सौंपा था। हालांकि इस घटना के बाद जहां उदयपुर समेत पूरे देश के अंदर कन्हैयालाल को जल्द से जल्द न्याय मिले उसे लेकर चारो तरफ आवाज भी उठी है। बता दें कि 28 जून को कन्हैयालाल गला रेतकर हत्या कर दी गई थी।

28 जून को कन्हैयालाल की हत्या हुई

28 जून मंगलवार को उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या कर दी गई थी। वह धानमंडी इलाके के भूत महल क्षेत्र में रहते थे और पेशे से दर्जी थे। दो मुस्लिम युवक कपड़े का नाप देने के बहाने उनकी दुकान पर पहुंचे और धारदार हथियार से कन्हैया पर वार करना शुरू कर दिया। ताबड़तोड़ हमलों ने कन्हैया को संभलने का मौका तक नहीं दिया। उसकी गर्दन कट गई और मौके पर ही मौत हो गई। फिलहाल इस मामले के सभी आरोपीयों को राजस्थान पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और उनके ऊपर कानूनी कार्यवाही जारी है।

कैबिनेट बैठक में अन्य प्रस्ताव भी पास

बता दें आज राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आवास पर हुई कैबिनेट बैठक में कई अहम फैसले लिए गए है। जहां एकतरफ उदयपुर में हुई कन्हैयालाल की निर्मम हत्या के बाद उनके दोनों बेटों को सरकारी नौकरी देने के ऐलान किया गया। इसी के साथ इस कैबिनेट बैठक के अंदर जिसमें नए सरकारी कॉलेजों के संचालन को लेकर भी अहम निर्णय लिया गया है। इसी के साथ नौकरी के लिए नियमों में दी जाएगी शिथिलता। तो वहीं केंद्रीय सहकारी बैंकों को क्षतिपूर्ति ब्याज को लेकर अहम फैसला लिया गया। तो वहीं 5 लाख नए किसानों को मिलेगा फसली ऋण।

यह भी पढ़ें: UP में योगी सरकार ले सकती बड़ा फैसला, सरकारी विभागों में कार्यरत 50 साल से अधिक उम्र वालों कर्मचारी होंगे जबरन रिटायर

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *