Char Dham Yatra 2022: चारधाम यात्रा में 20 तीर्थयात्रियों की मौत से मचा हड़कंप, पीएमओ ने मांगी रिपोर्ट

चार धाम यात्रा की शुरुआत हो चुकी है और यात्रा करने लाखों श्रद्धालु उत्तराखंड पहुंच रहे हैं। पिछले कुछ दिनों में यात्रा करने पहुंचे लगभग 20 श्रद्धालु की मौत (Died in Chardham Yatra) हो गई।

Share This News
Died in Chardham Yatra

देहरादून: चार धाम यात्रा की शुरुआत हो चुकी है और यात्रा करने लाखों श्रद्धालु उत्तराखंड पहुंच रहे हैं। पिछले कुछ दिनों में यात्रा करने पहुंचे लगभग 20 श्रद्धालु की मौत (Died in Chardham Yatra) हो गई। इस घटना को लेकर पीएमओ ने रिपोर्ट मांगी है। पीएमओ के रिपोर्ट मांगने के बाद शासन हरकत में आ गया ऐसे में यात्रा के ऑनलाइन और ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन अनिवार्य कर दिए गए। सत्यापन के लिए सभी चेक पोस्ट व पुलिस चौकियों पर अब बेहतर तरीके से जांच होगी। सूत्रों के मुताबिक चार धाम यात्रा में 1 सप्ताह में 20 यात्रियों की मृत्यु के बारे में पीएमओ ने नोटिस लेकर शासन से रिपोर्ट मांगी है।

20 तीर्थयात्रियों की मौत से मचा हड़कंप

बता दें कि मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने तीर्थ यात्रियों को लेकर पुष्ट आंकड़े जुटाए और रिपोर्ट तैयार की। स्वास्थ्य सचिव राधिका झा ने स्वास्थ्य अधिकारियों की बैठक भी ली। गौरतलब है कि सरकार ने चार धाम यात्रा को लेकर संख्या में अब इजाफा कर दिया है। बद्रीनाथ में अब 1 दिन में 16000 केदारनाथ में 13000 गंगोत्री में 8000 और यमुनोत्री में 5000 यात्री प्रतिदिन दर्शन कर पाएंगे माना यह भी जा रहा है कि जितने लोग का रजिस्ट्रेशन हो रहा है उससे ज्यादा श्रद्धालु चार धाम की यात्रा पर पहुंच रहे हैं।

पीएमओ ने मांगी रिपोर्ट

वहीं आपको बता दें कि  केदारनाथ धाम (Kedarnath Dhamपहुंचने वाले यात्रियों को जल्द से जल्द बाबा केदार के दर्शन कराने के लिये प्रशासन ने क्यू मैनेजमेंट सिस्टम लागू कर दिया है। साथ ही मंदिर के दोनों द्वारों पर पक्की बैरेकेडिंग करवा दी है। बैरेकेडिंग होने से कोई भी यात्री न तो लाइन तोड़ेगा और न कोई दसूरा व्यक्ति लाइन में घुसेगा। इसके साथ ही मंदिर के वीआईपी गेट से भी कोई अंदर नहीं घुसेगा।

Read Also:- केदारनाथ धाम में अब लाइन मेें लगकर ही श्रद्धालु कर सकेंगे बाबा केदार के दर्शन, जानें क्यों?

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.