इंग्लैंड में हिंदू-मुस्लिम समुदाय के बीच हिंसक झड़प, कट्टरपंथियों ने किया मंदिर पर हमला

इंग्लैंड के लीसेस्टर शहर में शनिवार और रविवार की दरम्यानी रात को स्थानीय हिंदू-मुस्लिम समुदायों के बीच सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर भारी झड़प हो गया है। बता दें वहीं दोनों समुदायों के बीच छिड़ी हिंसा के बीच जब पुलिस ने दखल देने की कोशिश की, तब उनपर भी हमला बोल दिया गया। हालांकि इस घटना को लेकर ये बताया जा रहा है कि पूरा विवाद 28 अगस्त से चल रहा है, जब एशिया कप में भारत-पाकिस्तान के बीच मैच हुआ था। इस मैंच में भारत की जीत हुई थी। इस मैच में भारत की जीत और पाकिस्तान की हार से कट्टरपंथियों में काफी गुस्सा था।

प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर भी किया हमला

बता दें यही वो दिन था, जब मुस्लिमों और हिन्दुओं के बीच विरोध छिड़ गया था। दोनों पक्ष शनिवार और रविवार तड़के फिर एक-दूसरे के आमने-सामने आ गए और सड़कों पर प्रदर्शन करने लगे। हालांकि दो पक्षों में छिड़ी झड़प को बीच बचाव करने के लिए जब ब्रिटेन की पुलिस ने दखल दिया, तो प्रदर्शनकारियों ने उनपर भी हमला बोल दिया और कांच की बोतलें फेंकने लग गए। बता दें कट्टरपंथियों ने वहां मौजूद मंदिर पर भी हमला बोल दिया और उसपर लगे भगवा झंडे को उखाड़ फेंका। हालांकि मंदिर पर हमले की इस घटना पर लीसेस्टर पुलिस ने कहा कि ऐसी घटनाओं को वो बर्दाश्त नहीं करेंगे।

विवादित पोस्टर से शुरु हुआ विवाद

वहीं शुरुआती मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मुसलमानों ने शनिवार को लीसेस्टर शहर में एक विरोध प्रदर्शन का आयोजन भी किया था। इसके लिए एक पोस्टर भी बनाया गया था। जिस पोस्टर में लिखा था कि हम लेस्टा में उतरने जा रहे हैं। ताकि आरएसएस के इन हिंदुत्व चरमपंथियों को यह दिखाया जा सके कि हमारी मुस्लिम और सिख महिलाओं तथा बच्चों और बुजुर्गों के साथ खिलवाड़ नहीं करने देंगे। फिलहाल जानकारी के अनुसार दोनों पक्षों के बीच गुस्सा एक फेक सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर पैदा हुआ था, जिसमें दावा किया गया था कि तीन हिंदू युवकों ने एक मुस्लिम युवती का अपहरण करने की कोशिश की है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *