यूक्रेन में रूस की ‘मध्यकालीन रणनीति’ किस ओर इशारा कर रही है ?

रूसी सेना की चढ़ाई

मध्यकालीन रणनीति

यूक्रेन में रूस के हमले के छठे दिन राजधानी कीव की ओर बढ़ती रूसी सेना की बख्तरबंद गाड़ियों की सैटेलाइट तस्वीरें सामने आई हैं। तस्वीरें रूस की ओर से की जाने वाली बड़ी तबाही की तरफ इशारा कर रही हैं। मुमकिन है कि राजधानी कीव में घुसने से पहले रूस अपनी सेना को और मजबूत कर रहा है।

शहरों की रसद लाइन काटना है मकसद

यूक्रेन की ओर से लगातार राजाधानी कीव समेत देश के कई बड़े शहरों को घेरने के दावे किए जा रहे हैं। यूक्रेन का कहना है कि रूस एक खास रणनीति (मध्यकालीन रणनीति) के तहत देश को घेरना चाहता है। जानकारों की माने तो ये रणनीति यूक्रेन के बड़ी आबादी वाले क्षेत्रों से रसद लाइन काटना है। जिसका मायने हैं कि ऐसे शहरों को खाने-पीने और अन्य जरूरी सामानों से वंचित करना।

नागरिकों ने भी उठाए हथियार

रूस के शुरूआती हमले पर ऐसी उम्मीदें जताई जा रही थी कि सैन्य कार्रवाई ज्यादा दिनों तक नहीं चलेगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। हमले के छठे दिन भी कार्रवाई को और ज्यादा मजबूत किया जा रहा है। यहां तक की यूक्रेन भी अपनी पूरी क्षमता के साथ इस युद्ध का सामना कर रहा है। इतना ही नहीं यूक्रेन को पश्चिमी देश भी हथियार मुहैया कराने में मदद कर रहे हैं। आलम ये है कि यूक्रेन के आम नागरिकों ने भी हथियार उठा लिए हैं।

हो सकता है कि रूस ने यूक्रेन टक्कर का सामना डट करेगे ऐसी उम्मीदें नहीं जताई होंगी। लेकिन कीव की ओर बढ़ते रूस के भारी सैन्य काफिलें ने यूक्रेन की चिंता को बढ़ाया है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.