Advertisement

Mumbai Weather Forecast : महाराष्ट्र में बारिश ने मचाई भारी तबाही

Share
Advertisement

नई दिल्ली। देश के कई हिस्सों में तेज बारिश ने तबाही मचा दी है। कई जगहों पर तो पानी इतना भर गया कि बाढ़ जैसे हालात हो गए। वहीं महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे लगातार बारिश हुई जिसमें करीब नौ लोगों की जान चली गई। इस मामले में रविवार को राज्य आपदा प्रबंधन विभाग ने जानकारी दी। 

Advertisement

नदियों का जलस्तर खतरनाक स्तर पर

रिपोर्ट के मुताबिक महाराष्ट्र में एक जून से अब तक कुल 76 लोगों की मौत हो चुकी है। कुंडलिका समेत राज्य की कई नदियां खतरनाक स्तर को पार कर चुकी हैं।  उल्हास, सावित्री, पातालगंगा, अंबा और गढ़ी नदियों का जलस्तर चेतावनी स्तर से थोड़ा नीचे है।

महाराष्ट्र में बारिश के कारण 838 घर क्षतिग्रस्त हो गए हैं। वहीं, लगभग 4,916 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। आपदा प्रबंधन विभाग और पुनर्वास विभाग द्वारा 35 राहत शिविर बनाए गए हैं। जिनमें लोगों को रहने और खाने की पूरी व्यवस्था की गई है।

गुजरात में बहा पुल

तेज बारिश के कारण नदियां उफान पर हैं। इस कारण अचानक आई बाढ़ और लगातार हो रही भारी बारिश के कारण तापी जिले के पंचोल और कुम्भिया गांवों को जोड़ने वाली सड़क पर बना पुल बह गया। दक्षिण गुजरात के कई हिस्सों में नदियां खतरनाक स्तर को पार कर चुकी हैं इस कारण निचले इलाकों में पानी भर गया है। 

नवसारी और वलसाड जिले में 700 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। वहीं, छोटा उदयपुर जिले में लगातार भारी बारिश से पुल का एक हिस्सा गिर गया।

केरल के चार जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी

कई हिस्सों में भारी बारिश के बीच आईएमडी ने रविवार को केरल के चार जिलों में दिनभर के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया। आईएमडी ने शाम 4 बजे उत्तरी केरल के जिलों कोझीकोड, वायनाड, कन्नूर और कासरगोड में दिन के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया। आईएमडी ने तिरुवनंतपुरम और कोल्लम को छोड़कर शेष सभी जिलों के लिए येलो अलर्ट भी जारी किया है।

रेड अलर्ट, ऑरेंज अलर्ट और येलो अलर्ट में अंतर

रेड अलर्ट, 24 घंटे की अवधि में 20 सेमी से अधिक की भारी से अत्यधिक भारी बारिश का संकेत देता है, जबकि ऑरेंज अलर्ट का मतलब 6 सेमी से 20 सेमी बारिश के बीच बहुत भारी बारिश है। येलो अलर्ट का मतलब 6 से 11 सेंटीमीटर के बीच भारी बारिश है।

आईएमडी ने आगे कहा कि अगले पांच दिनों में दक्षिणी राज्य केरल में भारी बारिश की संभावना है और 10, 13 और 14 जुलाई को भारी से बहुत भारी बारिश की भविष्यवाणी की गई है।

राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अनुसार, 3 से 7 जुलाई के बीच पूरे केरल में बारिश से संबंधित घटनाओं में छह लोगों की जान चली गई और कई घर क्षतिग्रस्त हो गए।

असम में बाढ़ से दो और लोगों की मौत

असम में बाढ़ की स्थिति में काफी सुधार होने के बावजूद रविवार को दो और लोगों की मौत हो गई। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) बुलेटिन के अनुसार, दोनों मौतें हैलाकांडी जिले में हुईं। इस साल बाढ़ और भूस्खलन में जान गंवाने वालों की संख्या 192 हो गई। अभी भी 12 जिलों में 5,39,334 लोग बाढ़ से पीड़ित हैं। 18 राजस्व मंडलों के कुल 390 गांव जलमग्न हैं।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *