यूपी के मदरसों में पहले हुआ राष्ट्रगान, बाद में ज्ञान, देखें वीडियो

सीएम योगी (CM Yogi) ने मदरसों को आदेश दिया था कि प्रतिदिन मदरसों में पहले राष्ट्रगान (National Enthem) होगा और इसके बाद पढ़ाई शरू की जाएगी।

Share This News
राष्ट्रगान

मुख्यमंत्री योगी के आदेश पर जिले के सभी मदरसों में राष्ट्रगान (National Enthem) के बाद पढ़ाई शुरू हुई। मदरसों में राष्ट्रगान की वीडियों बनाकर प्रबंधकों ने विभाग को भेजी है। अम्बेडकनागर जनपद के सबसे बड़े मदरसे में बच्चों के साथ सभी टीचर्स व मौलानाओं ने दुआ के बाद एक सुर में राष्ट्रगान पढ़ा। दरअसल सीएम योगी ने मदरसों को आदेश दिया था कि प्रतिदिन मदरसों में पहले राष्ट्रगान होगा और इसके बाद पढ़ाई शरू की जाएगी। मदरसों में राष्ट्रगान न होने के मामलों को संज्ञान में लेते हुए शासन ने सभी मदरसों में राष्ट्रगान अनिवार्य कर दिया है।

इन मदरसे के मौलाना से बात की तो उन्हीने साफ तौर से कहा कि राष्ट्रगान हमारे दिलों में बसा है हम सब हमेशा राष्ट्रीय पर्वों पर पढा भी करते थे… लेकिन अब आदेश रोज पढ़ने का है तो रोज पढ़ेंगे। उन्होंने आगे कहा कि राष्ट्र हमारे लिए सबसे पहले है और राष्ट्रगान हमारे लिए सबसे अहम है। सरकार का जो भी आदेश होगा हम वो सब मानेगें। सुबह जब बच्चे पहुंचे तो सबसे पहले राष्ट्रगान हुआ और बच्चों के साथ-साथ सभी स्टाफ ने राष्ट्रगान किया। 

आदेश मे कहा गया है कि राज्य के सभी मान्यता प्राप्त अनुदानित और गैर अनुदानित मरदसों में आगामी शिक्षण सत्र की कक्षाएं शुरू होने से पहले अन्य दुआओं के साथ शिक्षकों और छात्रों के लिए राष्ट्रगान भी अनिवार्य होगा। जिला अल्पसंख्यक अधिकारी को आदेश की पालना करवाने के साथ ही नियमित तौर पर इसकी निगरानी भी करनी होगी। आगे ये भी आदेश दिया कहां कि सभी प्रधानाचार्य प्रतिदिन राष्ट्रगान कराएं, इसमें लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसकी वीडियो बनाकर भी वह विभाग को उपलब्ध कराएं।

यह भी पढ़ें यूपी सरकार का बड़ा ऐलान, मदरसों में पढ़ाई से पहले राष्ट्रगान जरूरी

यह भी पढ़ें UP: रोजगार को लेकर सीएम योगी सख्त, अब 100 दिनों के अंदर मिलेगी सरकारी नौकरी

Share This News

देश-दुनिया की ताजा खबरों के लिए हिंदी खबर होम पेज पर विजिट करें। आप हमें फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। लेटेस्ट खबरें देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें।


Leave a Reply

Your email address will not be published.