डॉ. रणदीप गुलेरिया ने चेताया, कहा- ‘त्योहारों पर बढ़ सकता है कोरोना, 6 से 8 महीने और रहें सतर्क’

नई दिल्ली। दिल्ली एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने त्योहारों की शुरूआत से पहले कोरोना के खतरों को लेकर देश को सतर्क कर दिया है। उन्होंने कहा है कि ‘अभी हम सभी को कम से कम छह से आठ हफ्तों तक सतर्क रहने और सावधानी बरतने की आवश्यकता है।’

सरकार की रियायतें बढ़ा सकती हैं खतरा

उन्होंने आगे कहा कि ‘इसके बाद ही कोरोना के मामलों में कमी देखने को मिल सकती है। फिलहाल फेस्टिव सीज़न से पहले हमें सरकार की ओर से भी रियायतें मिलने लगी हैं, जो कोरोना संक्रमण में इजाफे का कारण बन रही हैं।’

गुलेरिया ने कहा कि ‘दूसरी लहर के दौरान हुई मौतों के बाद सरकार ने तमाम तरह की पाबंदियां लगाईं थीं, जिसके बाद राजधानी में कोरोना के मामलों में कमी देखने को मिली थी। लेकिन समय के साथ इसमें छूट दी जा रही है। जिससे कोरोना संक्रमण का खतरा फिर से बढ़ने के आसार दिखने लगे हैं।’

फेस्टिव सीज़न में बढ़ सकता है खतरा

हाल ही में सरकार ने रामलीला के आयोजन को लेकर मंजूरी दी है। इसमें आवश्यक शर्तों के साथ कुछ कार्यक्रम किए जा सकते हैं। लेकिन वहीं छठ पूजा पर लगी पाबंदी यथावत जारी रहेगी। सार्वजनिक जगहों छठ-पूजा मनाने पर प्रतिबंध लगाया गया है, लेकिन घर पर मनाने की छूट दी गई है।

डॉ. गुलेरिया ने कहा, “इस वक़्त भारत में कोविड की स्थिति बहुत अच्छी है। मृत्यु दर कम है। वैक्सीन अभियान भी बहुत अच्छा चल रहा है। मैं लोगों से अपील करता हूं कि आने वाले वक़्त में त्योहारों का सीज़न शुरू हो रहा है। इस दौरान हमें एहतियात बरतने की ज़रूरत है”

कोरोना मामलों में घटी है मौतें

मिली जानकारी के अनुसार पिछले दो दिनों में कोरोना संक्रमण के आंकड़ों में थोड़ी बढ़ोतरी देखी गई है। पहले यह आंकड़ा 0.03 प्रतिशत था, जो अब बढ़ कर 0.06 प्रतिशत हो गया है। इसके अलावा राहत देने वाली ख़बर ये भी है कि इस महीने कोरोना से पांच मरीजों की मौत हुई, जो कोरोना का संक्रमण शुरू होने के बाद से 18 महीनों में सबसे कम है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *