Advertisement

दिसंबर से फरवरी के बीच कांग्रेस की दूसरी भारत जोड़ो यात्रा, गुजरात से मेघालय तक

Share
Advertisement

कांग्रेस की दूसरी भारत जोड़ो यात्रा दिसंबर 2023 से फरवरी 2024 तक हो सकती है। गुजरात से मेघालय तक राहुल गांधी की यात्रा होगी। अब सिर्फ पैदल नहीं चलेंगे, बल्कि कार भी चलेंगे।

Advertisement

8 अगस्त को, महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नाना पटोले ने इस यात्रा का रास्ता घोषित किया। सितंबर में कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि पार्टी भारत जोड़ो यात्रा के दूसरे चरण की तैयारी कर रही है।

कन्याकुमारी से श्रीनगर तक पहली भारत जोड़ो यात्रा हुई थी

7 सितंबर को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से राहुल गांधी की पहली भारत जोड़ो यात्रा शुरू हुई। 30 जनवरी को इसका समापन जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में हुआ था। 145 दिनों में यह यात्रा करीब 3570 किमी चल गई।

इस दौरे ने चौबीस राज्यों की सीमाओं को पार किया। इनमें शामिल हैं तमिलनाडु, केरल, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, गुजरात, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और जम्मू-कश्मीर।

श्रीनगर में अपनी यात्रा के समापन पर शेर-ए-कश्मीर क्रिकेट स्टेडियम में राहुल ने कहा कि उन्होंने देश की जनता के लिए यात्रा की है, न कि अपने या कांग्रेस के लिए। उस विचारधारा के खिलाफ खड़ा होना है जो इस देश की संस्कृति को नष्ट करना चाहती है, हमारा लक्ष्य है।

राहुल गांधी  ने 12 जनसभाओं को संबोधित किया था

राहुल गांधी ने अपनी यात्रा के दौरान बारह बैठकें, सौ से अधिक बैठकें और तेरह प्रेस कॉन्फ्रेंस कीं। यात्रा के दौरान, उन्होंने लगभग 275 चर्चाओं में भाग लिया, और कहीं-कहीं रुककर 100 से अधिक चर्चाएं कीं।

नेता, लेखक, सैन्य दिग्गज शामिल हुए


यात्रा के दौरान मशहूर हस्तियों, लेखकों, सैन्य दिग्गजों की भागीदारी भी रही। इनमें पूर्व सेना प्रमुख जनरल (रिटायर्ड) दीपक कपूर, पूर्व नौसेना प्रमुख एडमिरल (रिटायर्ड) एल रामदास और पूर्व RBI गवर्नर रघुराम राजन, पूर्व वित्त सचिव अरविंद मायाराम भी शामिल हुए थे।

ये भी पढ़ें: Sonbhadra: 12 निर्धन कन्याओं समेत 101 कन्याओं का हुआ सामूहिक विवाह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें