Advertisement

Uttarakhand: जिलों में विकास कार्यों की धीमी गति पर सीएम सख्त, दिए निर्देश

Share
Advertisement

सीएम पुष्कर सिंह धामी ने सभी जिलाधिकारियों को महीने में दो बार विकास कार्यों की समीक्षा के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा है कि जिलों में चल रहे विकास कार्यों पर गंभीरता से काम किया जए। जिससे इन कामों को समय पर पूरा किया जा सके।

Advertisement

सीएम पुष्कर सिंह धामी ने जिलों में विकास कार्यो में देरी को लेकर जिलाधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं। सचिवालय में अल्मोड़ा लोकसभा क्षेत्र के विधानसभाओं की समीक्षा के दौरान सीएम धामी ने कहा कि सभी जिलों के डीएम विकास के कामों की महीने में दो बार जरूर समीक्षा करें। सीएम ने कहा कि विधायकों के जरिए विकास कार्यों के लिए जो भी प्रस्ताव आते हैं।

उन्हें शासन में भेजने के बाद भी उसकी प्रगति की शासन से डीएम अपडेट भी लेते रहें। सीएम ने शासन के अधिकारियों को भी पत्रावलियों के निस्तारण में देरी नहीं करने को कहा है। सीएम ने कहा है पत्रावलियों में अनावश्यक आपत्ति नहीं लगाई जाए। जिससे प्रस्ताव पर काम होने में देरी नहीं हो। मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारियों और शासन के अफसरों को ये निर्देश दिए हैं।

सीएम ने जिलाधिकरियों को जन समस्याओं के समाधान में किसी तरह की लापरवाही नहीं बरतने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा है कि जिला स्तर पर समस्याओं के समाधान से लोगों को मंडल या शासन के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। सीएम ने कहा है कि राज्य की विषम भौगोलिक परिस्थितियों के कारण अलग-अलग क्षेत्रों की अलग-अलग समस्याएं हैं।

अधिकारियों को क्षेत्र विशेष की जरूरत के हिसाब से काम करना होगा। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को प्रक्रियाओं के सरलीकरण पर ध्यान देने को कहा है। प्रक्रियाओं के सरलीकरण के लिए विभागों ने क्या काम किए हैं, इसकी भी जल्दी ही समीक्षा की जाएगी।

ये भी पढ़ें:Uttarakhand: महिला ने दो नाबालिक बच्चों के साथ की आत्महत्या, मामले की जांच में जुटी पुलिस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *