Advertisement

दिव्यांगों के हित के लिए प्रतिबद्ध केजरीवाल सरकार, सुगमय सहायक योजना का शुभारंभ

Sugamya Sahayak Yojna

Sugamya Sahayak Yojna

Share
Advertisement

Sugamya Sahayak Yojna: दिल्ली सरकार ने 28 फरवरी, बुधवार को सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी एलिम्को (पीएसयू) के साथ पांच वर्ष की अवधि के लिए एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर कर, सुगमय सहायक योजना की आधिकारिक तौर पर शुरुआत की। यह योजना विगत 23 जनवरी को अधिसूचित की गई थी। बता दें कि सुगमय सहायता योजना के तहत, बेंचमार्क विकलांगता वाले पात्र दिव्यांग व्यक्ति को कृत्रिम अंग, ट्राइसाइकिल, मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल जैसे कई सहायक उपकरण प्राप्त होंगे।

Advertisement

यह मिलेंगी सुविधाएं

इस योजना के तहत व्हीलचेयर, बीटीई श्रवण यंत्र, बैसाखी एक्सिला एडजस्टेबल, ब्रेल केन, एमएसआईईडी किट, ब्रेल किट और दृष्टि बाधितों के लिए स्मार्टफोन, स्मार्ट केन और कुष्ठ रोगियों के लिए एडीएल किट और अन्य उपलब्ध कराए जाएंगे। इसमें ALIMCO मूल्यांकन के संचालन के लिए जिम्मेदार आपूर्ति एजेंसी के रूप में काम करेगी व बेंचमार्क विकलांगता वाले दिव्यांग व्यक्ति को अनुकूलित सहायक उपकरण प्रदान करेगी।

सुगमय सहायक योजना में भागीदारी के लिए पात्र होने के लिए, आवेदकों को निम्नलिखित मानदंडों को पूरा करना होगा:

1. आवेदक को बेंचमार्क विकलांगता (40% या अधिक विकलांगता) वाला व्यक्ति होना चाहिए(विकलांगता प्रमाणपत्र/यूडीआईडी कार्ड के अनुसार)।

2. राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली का निवासी होना चाहिए।

3. परिवार की सभी स्रोतों से वार्षिक आय सीमा रु.8,00,000/- से अधिक नहीं होनी चाहिए।

4. आधार कार्ड का होना.

दिल्ली में रहने वाले बेंचमार्क विकलांग व्यक्तियों को समाज कल्याण विभाग में आवेदन करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि वे निर्दिष्ट पात्रता मानदंडों को पूरा करते हैं।

‘न्यायसंगत समाज की ओर दिल्ली सरकार की शानदार पहल’

राज कुमार आनंद ने कहा कि सुगमय सहायक योजना केजरीवाल सरकार की समावेशिता के प्रति प्रतिबद्धता को दर्शाती है और सभी नागरिकों के लिए एक अधिक न्यायसंगत समाज बनाने की दृष्टि में अग्रसर भूमिका निभा रही है।

यह भी पढ़ें: Himachal Political Crises: भारतीय जनता पार्टी कर रही लोकतंत्र का हरण: आप मंत्री गोपाल राय

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरों को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें