Advertisement

जेल में हुआ प्यार, फिर रचाई शादी, दिलचस्प है बंगाल की यह लव स्टोरी

Share
Advertisement

प्यार-मोहब्बत की कहानियां इससे पहले आपने बहुत सारी सुनी होंगी लेकिन ऐसी अनोखी नहीं सुनी होगी। अब्दुल हासिम असम से और शहानारा खातून पश्चिम बंगाल से हैं। दोनों की मुलाकात जेल में हुई। उसके बाद दोस्ती और प्यार में रिश्ता बदल गया। बता दें कि अब दोनों ने शादी भी रचा ली है। वहीं, शहानारा खातून और अब्दुल हासिम दोनों ही हत्या के अलग-अलग मामले में दोषी करार दिए जा चुके हैं और सजा काट रहे हैं।

Advertisement

शहानारा खातून और अब्दुल हासिम की को बंगाल की पहली बार मुलाकात बर्धमान केंद्रीय सुधार गृह हुई। जिसके बाद दोनों की दोस्ती हुई और फिर दोस्ती प्यार में बदल गई। दोनों ने शादी करने का फैसला किया जिसके लिए उन्हें जेल से 5 दिन की पैरोल मिली है।

दोनों कैदी हैं कौन?


असम के दोरांग जिले के रंगंगारोपाथर गांव का रहने वाला बताया जा रहा है अब्दुल जो की 8 साल से जेल में बंद है। बता दें कि उसकी दो साल की सजा अभी और बची है। वहीं शहानारा खातून बंगाल के बीरभूम जिले के उचकरन बलीगड़ी की रहने वाली है। उसे हत्या के मामले में 6 साल की सजा सुनाई गई थी।


बता दें कि तीन साल पहले केंद्रीय सुधार गृह में दोनों की जान-पहचान हुई थी। शादी के लिए दोनों ने अपने परिवार से भी रजामंदी ली जो इस पर सहमत हो गए। बुधवार को अब्दुल और शहानारा को पैरोल पर रिलीज किया गया और उन्होंने मुस्लिम ऐक्ट के जरिए पूर्वी बर्धमान के मोंटेश्वर ब्लॉक में निकाह रचाया। पैरोल समाप्त होते ही दोनों को वापस सुधार गृह में रखा जाएगा।

ये भा पढ़ें: पिता की संपत्ति में बेटी का हक़ बराबर: ओडिशा हाईकोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें