Advertisement

Fatehpur: ग्रामीणों ने खून से लिखे खत, बोले… बनवा दीजिए सड़क

Letters written in Blood

Letters written in Blood

Share
Advertisement

Letters written in Blood: फतेहपुर जनपद  के विजयीपुर-गाजीपुर मार्ग निर्माण के लिए सड़क किनारे के गांवों में ग्रामीणों ने  खून से खत लिखकर शासन-प्रशासन को पीड़ा बताई। महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर किसानों, व्यापारियों, युवाओं ने खून से खत लिखे। सड़क संघर्ष समिति के कार्यकर्ताओं ने अभियान का नेतृत्व किया। ग्रामीणों ने कहा, लोक सभा चुनाव से पहले यदि ध्वस्त पड़ी सड़क का निर्माण नहीं होता है तो वोट के माध्यम से जवाब दिया जाएगा।

Advertisement

पहले भी हो चुका है आंदोलन

बताते चलें कि फतेहपुर लोकसभा क्षेत्र की पांच लाख आबादी को प्रभावित करने वाले विजयीपुर-गाजीपुर मार्ग निर्माण के लिए विगत वर्ष गांधी जयंती के दिन से सत्याग्रह आंदोलन आरंभ हुआ था। जिला प्रशासन अधिकारियों के लिखित आश्वासन के बाद 12 अक्टूबर क़ो इसे समाप्त करवा दिया गया था। आंदोलन समाप्त हुए चार महीने का समय बीत चुका है। सड़क निर्माण की दिशा में कोई सकारात्मक पहल नहीं हो सकी।

अवमुक्त बजट के बंदरबांट का आरोप

सड़क निर्माण आंदोलन से जुड़े गांवों के लोगों ने जनसूचना अधिकार को हथियार बनाया तो यहां पर भी अधिकारियों ने बचाव कर लिया। वांछित सूचनाएं देने से अधिकारी बचते रहे। संघर्ष समिति के पदाधिकारियों का आरोप है कि सड़क निर्माण के लिए शासन से अवमुक्त होने वाले बजट का बंदरबांट किया जा चुका है। जवाब में इसी बात की पोल खुलने का अंदेशा अधिकारियों को सता रहा है। जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों की कारगुजारियों से नाराज ग्रामीणों ने झोपड़ी से लेकर घरों के ऊपर तक रोड नहीं तो वोट नहीं का बैनर लगाने का अभियान तेज कर दिया है।

सीएम से लेकर पीएम तक को भेजे

राष्ट्रपिता के बलिदान दिवस पर विजयीपुर, बहेरा-बरैची, मोगरिहापुर, नरैनी, लोधौरा, बहियापुर आदि गांवों में ग्रामीणों ने खून से खत लिखे। इन पत्रों को राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री तथा जिलाधिकारी कार्यालय को प्रेषित किया गया है। किसान नेता राकेश यादव निवासी मिचकी, नंदकिशोर द्विवेदी, रामदीन पाल, राजन तिवारी, मुन्नी तिवारी, पवन तिवारी, लवकुश यादव, प्रदीप दीक्षित रामबाबू तिवारी, अर्जुन मौर्या, सोमदत्त मौर्या, अमित मौर्या, पप्पू मौर्या, शत्रुघ्न कश्यप, जयप्रकाश तिवारी, विनोद कुमार द्विवेदी लिधौरा आदि लोग मौजूद रहेl

रिपोर्टः अमरदीप त्रिपाठी, संवाददाता, फतेहपुर, उत्तरप्रदेश

यह भी पढ़ें: Ghaziabad: पति ने पत्नी की हत्या कर की खुदकुशी, सड़क किनारे मिली दोनों की लाश

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरों को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *