Advertisement

Bihar: फिर विवादों में फतेह बहादुर, आरजेडी नेताओं ने कही ये बात…

Controversy over RJD’s MLA

Controversy over RJD’s MLA

Share
Advertisement

Controversy over RJD’s MLA: आरजेडी के डेहरी विधायक फतेह बहादुर सिंह एक बार फिर विवादों में हैं। दरअसल इस बार विवाद की वजह उनके द्वारा लगाया गया एक पोस्टर है। इस पोस्टर पर धर्म और शिक्षा के संबंध में एक कोट है। पोस्टर के अनुसार यह कोट सावित्री बाई फूले का है। अब इस पोस्टर को लेकर विपक्ष ने आरजेडी और डेयरी विधायक पर हिन्दू धर्म के अपमान का आरोप लगाया है।

Advertisement

Controversy over RJD’s MLA: क्या लिखा है पोस्टर पर

पोस्टर पर लिखा है कि ‘मंदिर का मतलब है मानसिक गुलामी का मार्ग और स्कूल का मतलब है जीवन में प्रकाश का मार्ग। जब मंदिर की घंटी बजती है तो हमें संदेश देती है कि हम अंधविश्वास, पाखंड मूर्खता और अज्ञानता की ओर बढ़ रहे हैं और जब स्कूल की घंटी बजती है तो यह संदेश मिलता है कि हम तर्कपूर्ण ज्ञान और वैज्ञानिकता की ओर बढ़ रहे हैं।अब तय करना है कि आपको किस ओर जाना है।– सावित्रा बाई फूले।’

फतेह बहादुर की अपनी सोच- प्रोफेसर चंद्रशेखर

आरजेडी विधायक के इस पोस्टर पर विवाद छिड़ गया। अब इस विवाद पर बिहार के शिक्षा मंत्री प्रोफेसर चंद्रशेखर से जब मीडिया ने बात की तो उन्होंने कहा, किसी की आस्था के साथ ठेस पहुंचाने का काम नहीं होना चाहिए। बच्चों को पढ़ने वाले स्कूली पाठ्यक्रम पुस्तकों में अगर कोई विवादित बात है तो उसे हटाने में कुछ गलत नहीं है। विधायक फतेह बहादुर की अपनी सोच हो सकती है।

‘भगवान के अंदर कौन प्राण दे सकता है’

वहीं उन्होंने राम मंदिर में आयोजित प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के बारे में कहा कि राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम पर मुझे न्योता मिलेगा तो जाऊंगा। नहीं मिलेगा तो नहीं जाऊंगा. मगर मेरा सवाल है भगवान के अंदर कौन प्राण दे सकता है।

हर जाति और धर्म का सम्मान करती है आरजेडी- डा. मनोज झा

वहीं इस मुद्दे पर आरजेडी सांसद मनोज झा ने कहा, बीते 1 हफ्ते से विपक्ष द्वारा अपने बयानों में पूरे देश में सिर्फ महागठबंधन की सरकार गिराई जा रही थी।  अब सब पर विराम लगाया सीएम नीतीश और तेजस्वी ने। आज सुबह से हमारे विधायक के संदर्भ में खबरें चल रही हैं। आपको बता दें कि आरजेडी  हर जाति और हर धर्म का सम्मान करती है। सावित्री बाई फुले ने जो मंदिर के संदर्भ में कहा उनके विचारों को लेकर हमारे विधायक ने कहा। उस बयान को मंदिर से जोड़ा गया।

‘हम धर्म को दिल में रखते हैं’

वह बोले, हम धर्म को दिल में रखते हैं। हम हे राम वाले लोग हैं। वंचित शोषित समाज से आने वाले हमारे विधायक ने सावित्री बाई फुले के विचारों को बताया है। इसे दूसरे मुद्दों से न जोड़ा जाए। फतेहबहादुर के लगातार विवादित बयान पर मनोज झा बोले की एक दल के रूप में फतेह बहादुर की हर बात का समर्थन हम नहीं करते हैं।

रिपोर्टः सुजीत श्रीवास्तव, ब्यूरोचीफ, बिहार

ये भी पढ़ें: Bihar: I.N.D.I. गठबंधन का ध्वज लहराएगा तभी राम घर आएंगे- तेजप्रताप

Follow us on: https://twitter.com/HindiKhabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें