Advertisement

मां को अपशब्द मामले में बोले चिराग… मुझे दुःख इस बात का कि मेरा छोटा भाई…

Chirag to Tejashwi

Chirag to Tejashwi

Share
Advertisement

Chirag to Tejashwi: आरजेडी की बिहार के जमुई में हुई चुनावी सभा के दौरान चिराग पासवान की मां को बोले गए अपशब्द का मामला तूल पकड़ रहा है. अब इस मामले पर चिराग पासवान का भी बयान आया है. उन्होंने कहा कि मुझे गुस्सा से ज्यादा दुःख इस बात का है कि मेरा छोटा भाई(तेजस्वी यादव) वहां खड़ा था और वो लोग अपशब्द कह रहे थे. अगर मेरे सामने उनके किसी परिवार के सदस्य के लिए कोई अपशब्द कहता तो मैं मुंहतोड़ जवाब देता.

Advertisement

चिराग पासवान ने दिल्ली में कहा कि लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के प्रमुख चिराग पासवान ने कहा, मुझे दुःख इस बात का है कि जिस मंच पर, जिस नेता के समाने मुझे और मेरे परिवार को गालियां दी गईं, वो(तेजस्वी यादव) मेरा छोटा भाई है. मैंने राजनीतिक मंच पर उनका कड़े से कड़ा विरोध किया लेकिन कभी भी उनके पारिवारिक स्तर पर नहीं गया. इस तरीके से मर्यादाओं को गिराना. भविष्य की राजनीति के लिए उचित नहीं है.

चिराग पासवान ने कहा कि कई बार मुझ पर आरोप लगते हैं कि मैं RJD के प्रति सॉफ्ट रहता हूं. मेरे पिता राम विलास पासवान और लालू प्रसाद यादव समकक्ष नेता थे. मैं आज भी उस रिश्ते का सम्मान करता हूं. कभी भी पारवारिक हमला नहीं करता. यदि मेरे सामने कोई मीसा दीदी या मेरी बहन रोहिणी आचार्य के लिए अपशब्द कहेगा तो मैं उसका करारा जवाब दूंगा.

उन्होंने कहा कि आश्चर्य की बात है कि केवल एक लोकसभा सीट के लिए जो कि वर्तमान में मेरा संसदीय क्षेत्र है, उसके लिए ऐसी राजनीति की जा रही है. आरजेडी की प्रत्याशी अर्चना रविदास भी उस समय मंच पर मौजूद थीं. तो ऐसे में क्या उम्मीद करें कि अगर वो जीततीं हैं तो वो महिलाओं के सम्मान में क्या ही काम करेंगीं.

उन्होंने तेजस्वी के लिए कहा, उन्हें सोचना चाहिए कि वो एक नेता हैं. युवाओं के प्रतिनिधि हैं. उन्हें एक अच्छा उदाहरण सेट करना चाहिए. उन्होंने 2020 के चुनाव में अपने पिता की तस्वीर तक हटा दी थी कि ताकि लोगों को जंगल राज की याद न आए. उन्होंने पूछा आखिर क्या था जंगलराज. जंगलराज का मतलब था कि महिलाओं का नब्बे के दशक में घर से बाहर निकलना मुश्किल था.

तेजस्वी यादव के सामने एक महिला को गाली दी जा रही है. कोई कार्रवाई नहीं हो रही. ऐसे में हम कैसे उम्मीद कर सकते हैं कि वो आखिर बाहर जाकर महिलाओं के कैसा व्यवहार करेंगे. अब यह कहना कि सुनाई नहीं दिया. वहां कोई नॉइज वेरियर नहीं था. मंच पर उस समय भाषण भी नहीं दे रहे थे. उन्होंने कहा राजनीति को इतने निचले स्तर पर लेकर जाना भविष्य की राजनीति के लिए कतई उचित नहीं है.

यह भी पढ़ें: Bihar: वहशीपन की इंतिहा, मासूम को पीटकर मार डाला, कान भी काटे और फिर…

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र,  बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरो को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिन्दी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *