सोनिया गांधी ने लिखी नीतीश कुमार के पाला पलटने की पटकथा? हुआ बड़ा खुलासा

बिहार की राजनीति में आए सियासी भूचाल की पीछे किसका हाथ है इसको लेकर भी सियासत का बाजार काफी गर्म होता दिख रहा है। इसी को लेकर कई तरह के खुलासे  भी सामने आएं हैं। उसमें से ही एक खुलासा हुआ है ,जिसमें कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गाँधी मुख्य किरदार निभाती दिख रही हैं। अभी तक की मिली जानकारी के हिसाब से नीतीश कुमार के इस कदम के पीछे सोनिया गांधी का हाथ है। कहा तो ये भी जा रहा है कि सोनिया गांधी ने इस मामले को लेकर मध्यस्थता भी की थी। आपको बता दें कि इस बात की जानकारी भी उन्हीं के विधायक प्रतिमा दास ने दी है।

प्रतिमा दास ने किया बड़ा खुलासा

उन्होंने बड़े ही सहज और सरल अंदाज  में कहा है कि मैडम (सोनिया गांधी) ने महागठबंधन सरकार के गठन के लिए जिस तरीके से मध्यस्थता की भूमिका निभाई है उससे मैं खुद को गौरवान्वित महसूस कर रही हूं।

कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता ने कहीं बड़ी बातें

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजीत शर्मा ने कहा है कि कांग्रेस को कम से कम चार मंत्री पद मिलने चाहिए क्योंकि विधायकों की संख्या के आधार पर कांग्रेस का इतना हक बनता है, क्योंकि इस गठबंधन में कांग्रेस आलाकमान का बहुत बड़ा योगदान है। उन्होंने ये भी कहा कि गुरुवार को सभी विभागों के बारे में महागठबंधन के बीच अंतिम फैसला हो जाएगा, जिसके बाद नामों पर अंतिम मुहर शुक्रवार को दिल्ली में हाईकमान की तरफ से लगना तय है। इससे भी साफ जाहिर होता है कि कहीं न कहीं तो बिहार के सियासी समीकरण के पीछे सोनिया गांधी ने अहम रोल निभाया है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.