शिवसेना नेता किशोर तिवारी ने खटखटाया सुप्रीम दरवाजा, क्रूज ड्रग्स मामले में आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की दी दलील

नई दिल्ली: शिवसेना नेता किशोर तिवारी ने सुप्रीम कोर्ट में एक पत्र याचिका दायर कर बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए शीर्ष अदालत द्वारा स्वत: हस्तक्षेप करने की मांग की है, जो वर्तमान में क्रूज ड्रग्स मामले में जेल में है।

पत्र याचिका में शीर्ष अदालत से नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) में एक अधिकारी की भूमिका की न्यायिक जांच का आदेश देने का भी आग्रह किया गया है जो कथित तौर पर बॉलीवुड अभिनेताओं और मशहूर हस्तियों को दुर्भावनापूर्ण इरादे से निशाना बना रहा है।

याचिका में कहा, ‘मैं आपके सम्मान में विनम्र अनुरोध के साथ वर्तमान याचिका को कानून प्रवर्तन एजेंसियों के रूप में स्वत: संज्ञान लेने के विनम्र अनुरोध के साथ प्रस्तुत कर रहा हूं। एनडीपीएस अधिनियम के तहत एनसीबी स्थिति का दुरुपयोग कर रहा है और एनडीपीएस अधिनियम के तहत आरोपी व्यक्ति के बुनियादी मानवाधिकारों से वंचित करने का प्रयास कर रहा है। कानून के प्रावधानों की गलत व्याख्या करके गरीब, निर्दोष लोगों को सलाखों के पीछे डाला जा रहा है।

याचिकाकर्ता ने आरोप लगाया कि संबंधित एनसीबी अधिकारी की पत्नी मराठी की जानी-मानी अभिनेत्री है जो बॉलीवुड में अपना नाम नहीं बना पाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *