Haryana: गीता जयंती महोत्सव में पहुंचे ओम बिरला, कहा- क्रांतिकारियों को गीता ने राह दिखाई

गीता जयंती महोत्सव में पहुंचे सीएम

गीता ने क्रांतिकारियों को राह दिखाई- बिरला

कुरुक्षेत्र: शनिवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला कुरूक्षेत्र गीता जयंती महोत्सव में पहुंचे और अपने संबोधन में कहा कि मैं कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय को धन्यवाद देता हूँ, जिसने अध्यात्म, संस्कृति और हमारे स्वतंत्रता सेनानियों के साथ इस कार्यक्रम को मूर्त रूप दिया है. ओम बिरला का कहना है कि भारत आज भी पूरे विश्व को जीवन जीने के आदर्श मूल्य बताता है. हमारा लोकतंत्र सबसे बड़ा, सबसे सशक्त और सबसे मजबूत है.

बता दे कि कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में 75 स्वतंत्रता सेनानियों के परिजनों को सम्मानित किया गया है. धर्मनगरी में गीता जयंती का महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है. लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि भारत की विश्व में लोकतंत्र, अध्यात्म, संस्कृति के प्रणेता की पहचान है. आजादी की लड़ाई में भी क्रांतिकारियों को गीता ने राह दिखाई है. कर्म मेरा दायित्व है मेरा कर्तव्य है यही गीता का ज्ञान है. संसद की हर दीवार पर गीता के श्लोक, राम और कृष्ण के संदेश लिखे है.

ओम बिरला दोपहर को दो बजे कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के आडिटोरियम में आयोजित अंतरराष्ट्रीय गीता सेमिनार में शामिल हुए. इसके बाद शाम को ज्योतिसर और हरियाणा पवेलियन गए. वह यहां महाआरती में भाग लेंगे और फिर पुरुषोत्तमपुरा बाग में आयोजित सांस्कृतिक समारोह में भी शामिल होंगे. वे देर सायं अंबाला के लिए रवाना होंगे.

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.