Advertisement

LS चुनाव की रणनीति पर मंथन, BJP कार्यकर्ताओं को राम मंदिर कार्यक्रम में सक्रिय रूप से भाग लेने का निर्देश

Share
Advertisement

General Election 2024: भारतीय जनता पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को राम मंदिर निर्माण के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और विश्व हिंदू परिषद द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में सक्रिय रूप से भाग लेने का निर्देश दिया गया है। न्यूज़ एजेंसी एएनआई ने बताया कि ये निर्देश भाजपा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की दो दिवसीय बैठक के दौरान दिए गए, जिसमें 2024 के लोकसभा चुनाव से लेकर अयोध्या में राम मंदिर की प्रगति तक महत्वपूर्ण विषयों को संबोधित किया गया। नई दिल्ली में पार्टी के केंद्रीय कार्यालय में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की अध्यक्षता में हुई बैठक में संगठनात्मक रणनीतियों और सार्वजनिक पहुंच पर व्यापक चर्चा हुई। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि बैठक के दौरान, भाजपा पदाधिकारियों को राम मंदिर निर्माण के संबंध में आरएसएस और वीएचपी द्वारा चल रहे प्रयासों के बारे में जानकारी दी गई।

Advertisement

General Election 2024: राम मंदिर के लिए बीजेपी के कदमों का विवरण बताएं

एएनआई ने सुत्रों के हवाले से बताया कि पार्टी नेताओं ने राम मंदिर निर्माण के प्रयासों के बारे में जनता तक जानकारी प्रसारित करने के महत्व पर जोर दिया। रिपोर्ट में कहा गया है कि भाजपा कार्यकर्ताओं को भव्य राम मंदिर की दिशा में केंद्र के कदमों का विवरण देने वाले पर्चे वितरित करने और निर्माण के खिलाफ विपक्षी कार्यों को उजागर करने का भी निर्देश दिया गया था। भाजपा नेताओं ने निर्देश दिया कि अयोध्या का दौरा विशेष रूप से आमंत्रित लोगों तक ही सीमित रहेगा, जबकि अन्य नेताओं, मंत्रियों और सांसदों को अपने-अपने क्षेत्रों में मंदिरों में प्रार्थना में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया गया।

General Election 2024: करीब 55 हजार लोग रोजाना आएंगे अयोध्या

रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि आगामी लोकसभा चुनावों के लिए संगठनात्मक रणनीतियों को शामिल करने और जनता के बीच “मोदी की गारंटी” की पहुंच बढ़ाने पर ध्यान देने के लिए कहा गया है। अयोध्या के मंडलायुक्त गौरव दयाल ने कहा, “अस्पतालों में सभी सुविधाएं उपलब्ध हैं। मुख्यमंत्री भी इसकी समीक्षा कर रहे हैं। 30 दिसंबर को पीएम आ रहे हैं, एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन तैयार कर लिए गए हैं।” पहले चरण में उद्घाटन होने जा रहा है। अनुमान के मुताबिक, 22 जनवरी के बाद लगभग 50,000-55,000 लोग रोजाना अयोध्या आएंगे और प्रशासन इसकी तैयारी में जुटा हुआ है,”

ये भी पढ़ें- Bihar Crime: पार्टी के बहाने मिलने बुलाया, फिर मिली लाश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें