Advertisement

Ram Mandir : प्राण प्रतिष्ठा समारोह में चारों शंकराचार्य के न जाने की बात झूठी, कुछ शंकराचार्य जाएंगे अयोध्या : बाबा रामदेव    

Ram Mandir : प्राण प्रतिष्ठा समारोह में चारों शंकराचार्य के न जाने की बात झूठी, कुछ शंकराचार्य जाएंगे अयोध्या : बाबा रामदेव    
Share
Advertisement

Ram Mandir : अयोध्या में 22 जनवरी को होने वाले राम मंदिर उद्घाटन कार्यक्रम में चारों शंकराचार्य के न पहुंचने के मामले में बाबा रामदेव ने बड़ी बात कही है। उनका कहना है कि अलग-अलग शंकराचार्यों के अलग-अलग मत हो सकते हैं। लेकिन, चारों शंकराचार्य नहीं जा रहे हैं, यह बात झूठी है।

Advertisement

रामदेव ने क्या कहा?

रामदेव ने कहा कि हो सकता है उनके अलग-अलग मत हों, लेकिन यह सच नहीं है कि चारों शंकराचार्य राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में नहीं जाएंगे। कुछ शंकराचार्य जा रहे हैं और कुछ नहीं जा रहे हैं। पीएम मोदी अयोध्या में बने राम मंदिर में 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा करेंगे। इस समारोह के लिए देश-विदेश से कई मेहमानों को निमंत्रण भेजा गया है। इसी के तहत चारों शंकराचार्यों को भी आमंत्रित किया गया है।

आमंत्रण ठुकराने की थी ख़बर

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया कि चारों ने यह कहते हुए आमंत्रण ठुकरा दिया कि मंदिर का काम अभी पूरा नहीं हुआ है और ऐसी स्थिति में प्राण प्रतिष्ठा करना शास्त्र के विरुद्ध है, लेकिन अब कहा जा रहा है कि ज्योतिष और गोवर्धन पीठ के शंकराचार्य जहां इस समारोह का विरोध कर रहे हैं, तो श्रृंगेरी मठ के शंकराचार्य कार्यक्रम का समर्थन करते नजर आ रहे हैं।

शंकराचार्य विजयेंद्र ने पीएम मोदी की तारीफ की

तमिलनाडु के कांचीपुरम कांची कामकोटि मठ के शंकराचार्य विजयेंद्र सरस्वती स्वामीगल ने उद्घाटन समारोह का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि इस खास मौके पर कामकोटि पीठ की तरफ से काशी के यज्ञशाला मंदिर में 22 जनवरी के कार्यक्रम को चिह्नित करने के लिए 40 दिवसीय पूजा कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। यह हवन 40 दिनों तक चलेगा। शंकराचार्य विजयेंद्र सरस्वती स्वामीगल ने पीएम मोदी की तारीफ की।

यह भी पढ़ें – Ram Mandir : प्राण प्रतिष्ठा करने से पीएम मोदी को ही होगा नुकसान : मणिशंकर अय्यर

Follow Us On : https://twitter.com/HindiKhabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *