Advertisement

कोरोना के बाद अब देश में H3N2 का प्रकोप, अब तक 6 लोगों की मौत

Share
Advertisement

कोरोना महामारी के बाद देश में अचानक से इन्फ्लुएंजा वायरस के मामलों में आई वृद्धि ने चिंता बढ़ा दी है। पिछले कुछ दिनों से इन्फ्लुएंजा वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। बता दें कि उत्तर- प्रदेश और कर्नाटक में इसके अधिक मामले सामने आ रहे हैं। इस वक्त इन्फ्लुएंजा का H3N2 प्रकार तेजी से बड़ रहा है।

Advertisement

इन्फ्लुएंजा के लक्षण

इस वायरस के एक दिन में हजारों मामले सामने आ रहे हैं। यह भी कोरोना वायरस की तरह एक से दूसरे में फैलता है। इन्फ्लुएंजा वायरस में 3 से 5 दिन बुखार के साथ-साथ खांसी और जुकाम होता है। सिर में दर्द, मांसपेशियों में दर्द, गले में खराश जैसी बीमारीयों का सामना करना पड़ता है। इससे बचाव के लिए सुरक्षाकर्मी फेसमास्क लगाने की सलाह दे रहे हैं।

ICMR के मुताबिक, अस्पताल में भर्ती H3N2 वाले मरीजों में 92% मरीजों में बुखार, 86% को खांसी, 27% को सांस फूलना, 16% को घरघराहट की समस्या थी।

ICMR ने कहा, “H3N2 के कारण गंभीर तीव्र श्वसन संक्रमण से पीड़ित लगभग 10% रोगियों को ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है, और 7% को ICU देखभाल की आवश्यकता होती है।

वायरस से बचाव

कोरोना महामारी की तरह इस वायरस से भी बचाव करने के लिए साफ सफाई को सुनिश्चित करना चाहिए। अपने हाथों को बार बार पानी और साबुन से धोना चाहिए। बाहर से आने के बाद हाथों को सैनेटाइज करना चाहिए। भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचना चाहिए। बिना फेस मास्क के घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए। मुंह और नाक को छूने से बचें। छींकते समय नाक और मुंह को कवर करें।

H3N2 से 6 लोगों की मौत

इन्फ्लुएंजा वायरस के H3N2 प्रकार से अब तक देश भर में 6 लोगों की मौत हो चुकी है। सूत्रों के मुताबिक, कर्नाटक, पंजाब और हरियाणा में H3N2 वायरस से मौत की पुष्टि हुई है। हालांकि, सूत्रों का कहना है कि शुरुआती जांच में यह बात सामने आई हालांकि, H3N2 से मौत की वजह का पता लगाने के लिए और जांच की जरूरत है। 

उधर, कर्नाटक के हासन में एक व्यक्ति की H3N2 वायरस से मौत की पुष्टि हुई है. मृतक मरीज की पहचान एच गौड़ा के तौर पर हुई है। वे 82 साल के थे। उन्हें 24 फरवरी को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 1 मार्च को उनकी मौत हो गई। इसके बाद उनके सैंपल टेस्टिंग के लिए भेजे गए थे। 6 मार्च को आईए रिपोर्ट में H3N2 की पुष्टि हुई है।

ये भी पढ़ें: मातम में बदला Holi का जश्न, 43 लोगों की मौत, कई घायल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें