Advertisement

जनरल अनिल चौहान ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के रूप में कार्यभार संभाला

Share

जनरल चौहान ने आज कहा, “मैं तीनों सेवाओं की अपेक्षाओं को पूरा करने की कोशिश करूंगा। हम सभी भविष्य में सेना की चुनौतियों और कठिनाइयों से एक साथ निपटेंगे।”

जनरल अनिल चौहान
Share
Advertisement

भारत के नए चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के रूप में कार्यभार संभालने के बाद जनरल अनिल चौहान ने शुक्रवार को कहा कि तीनों सेनाएं सभी चुनौतियों और कठिनाइयों से एक साथ निपटेंगी।

Advertisement

सीडीएस जनरल अनिल चौहान ने नौ महीने बाद देश के सबसे वरिष्ठ सैन्य कमांडर के रूप में कार्यभार संभाला, है। इससे पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस), जनरल बिपिन रावत की तमिलनाडु में एक हेलिकॉप्टर दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी।

जनरल चौहान ने आज कहा, “मैं तीनों सेवाओं की अपेक्षाओं को पूरा करने की कोशिश करूंगा। हम सभी भविष्य में सेना की चुनौतियों और कठिनाइयों से एक साथ निपटेंगे।”

थिएटराइजेशन योजना के अनुसार, प्रत्येक थिएटर कमांड में थल सेना, नौसेना और वायु सेना की इकाइयाँ होंगी, और ये सभी एक ऑपरेशनल कमांडर के तहत एक निर्दिष्ट भौगोलिक क्षेत्र में सुरक्षा चुनौतियों का सामना करने वाली एक इकाई के रूप में काम करेंगे।

सीडीएस चौहान पिछले साल 31 मई को सेवा से सेवानिवृत्त हुए थे, जब वह पूर्वी सेना कमांडर के रूप में कार्यरत थे। अपनी सेवानिवृत्ति के बाद उन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल की अध्यक्षता में राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद सचिवालय (एनएससीएस) के सैन्य सलाहकार के रूप में कार्य किया।

सीडीएस का कार्यभार संभालने से पहले, जनरल चौहान ने इंडिया गेट परिसर में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर भारत के शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि दी।

उन्हें रायसीना हिल्स में साउथ ब्लॉक के लॉन में त्रि-सेवा गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया। जनरल चौहान फोर-स्टार रैंक में सेवा में लौटने वाले पहले सेवानिवृत्त थ्री-स्टार अधिकारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें