Advertisement

Baba Ramdev: नूडल्स, गाय के घी से लेकर सरसों के तेल तक…बाबा रामदेव का विवादों से रहा पुराना नाता, जानें कब-कब फंसे

Baba Ramdev

Baba Ramdev

Share
Advertisement

Baba Ramdev: भ्रामक विज्ञापन मामले में आज योग गुरु बाबा रामदेव और पतंजलि आयुर्वेद के प्रबंध निदेशक आचार्य बालकृष्ण सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए। उनके निर्देशों का पालन न करने पर सुप्रीम कोर्ट ने जमकर फटकार लगाई और कार्रवाई के लिए तैयार रहने को कहा। इस मामले की 10 अप्रैल को दोबारा सुनवाई होगी, बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण को कोर्ट में उपस्थित रहना होगा। हालांकि, यह पहली बार नहीं है जब बाबा रामदेव, उनकी कंपनी पंतजलि विवादों में घिरी हो। इससे पहले भी वे, पंतजलि आयुर्वेद और उनके उत्पाद विवादों में घिरे रहे हैं।

Advertisement

Baba Ramdev: ‘पतंजलि के गाय के घी में मिलावट’

साल 2022 में पंतजलि के गाय के घी में मिलावट सामने आई थी। उत्तराखंढ में खाद्य सुरक्षा विभाग की तरफ से किए गए परीक्षण में ‘शुद्ध गाय का घी’ खाद्य सुरक्षा मानकों पर खरा नहीं उतरा था। पतंजलि के ‘शुद्ध गाय घी’ का नमूना उत्तराखंड के टिहरी में एक दुकान से लिया गया था। इसे एक राज्य प्रयोगशाला में भेजा गया था जहां इसे मिलावटी और संभावित रूप से स्वास्थ्य के लिए हानिकारक पाया गया था। आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए बाबा रामदेव ने इस परीक्षण को उनकी कंपनी और पतंजलि के देसी घी को बदनाम करने की साजिश बताया था। इसके अलावा पतंजलि के नूडल्स को लेकर भी विवाद हुआ था। दिसंबर 2022 में बीजेपी नेता और सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने बाबा रामदेव को ‘मिलावटखोरों का राजा’ करार दिया था। उन्होंने पतंजलि के उत्पादों के खिलाफ देशव्यापी आंदोलन शुरू करने की धमकी तक दी थी।


साल 2022 में लग चुका पांच दवाओं पर रोक

उत्तराखंड के आयुर्वेदिक और यूनानी सेवाओं के अधिकारियों ने पतंजलि की दिव्य फार्मेसी को नवंबर, 2022 को पांच दवाओं का उत्पादन रोकने और मीडिया में विज्ञापन हटाने के लिए कहा था। स्टेट अथॉरिटी पंतंजलि ग्रुप की दवाओं बीपीग्रिट, मधुग्रिट, थायरोग्रिट, लिपिडोम और आईग्रिट गोल्ड के उत्पादन पर प्रतिबंध लगा दिया है। इन दवाओं को इन बीमारियों के इलाज के रूप में आक्रामक रूप से प्रचारित किया गया। बाद में कंपनी दिव्य फार्मेसी की तरफ से संशोधित फॉर्म्यूलेशन की जानकारी दी गई थी। इसके बाद फिर से इन दवाओं के उत्पादन को हरी झंडी दे दी गई थी।

ये भी पढ़ें:- Baba Ramdev: भ्रामक विज्ञापन मामले में SC सख्त, बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण को लगाई फटकार

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र,  बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरो को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिन्दी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें