ममता के भतीजे और बहू को कोयला घोटाले में पेश होने का आदेश, बैंक डिटेल्स भी मांगे

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी और उनकी पत्नी रुजिरा को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने कोयला घोटाला मामले में पूछताछ के लिए बुलाया है। ईडी ने अभिषेक को 6 सितंबर और रूजिरा को 1 सितंबर को हाज़िर होने के लिए कहा है। साथ ही उनके बैंक डिटेल्स भी मांगे हैं।
गौरतलब है कि अभिषेक और उनकी पत्नी ने कोयला घोटालों की आरोपी कुछ कंपनियों के फंड अपनी कंपनी में टांस्फर करवाए थे।

घोटाले में अभिषेक के रिश्तेदार और ममता के भाई के भी शामिल होने की आशंका

मिली जानकारी के अनुसार दोनों पर आरोप हैं कि उन्होंने अपनी कंपनी में ऐसी कंपनियों के फंड ट्रांस्फर करवाए थे, जिन पर कोयला घोटाले में लिप्त होने के आरोप लगे हैं। इसके बदले उन लोगों ने उन कंपनियों से कुछ फर्ज़ी एग्रीमेंट भी करवाए थे। अभिषेक बनर्जी के पिता और ममता बनर्जी के भाई कोयला घोटाले में शामिल आरोपी कंपनियों में से एक कंपनी के डायरेक्टर हैं। कोयला घोटाले की जांच में ईडी के साथ सीबीआई भी शामिल है।

इससे पहले भी अभिषेक बनर्जी और उनकी पत्नी को पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के दौरान पूछताछ के लिए बुलाया गया था। जो लगभग डेढ़ घंटे तक चली थी।

अभिषेक और उनकी पत्नी के अलावा CBI ने इसी साल मार्च में रूजिरा की बहन के पति, अंकुश और ससुर, पवन अरोड़ा को पूछताछ के लिए एक नोटिस भेजा था।

ECL, रेलवे और CISF के कई अधिकारियों के खिलाफ दर्ज़ हुआ था मामला

यह मामला पिछले साल चुनावी मौसम के दौरान सामने आया, जब सीबीआई की Anti Corruption Branch ने पश्चिम बंगाल के कुछ क्षेत्रों में अवैध खनन का मामला दर्ज़ किया। ये वो क्षेत्र थे, जहाँ खनन की जिम्मेदारी कोल इंडिया लिमिटेड की सहायक कंपनी ECL को दिया गया था। इस मामले में जांच की गई तो पता चला कि पट्टे क्षेत्र में व्यापक स्तर पर अवैध कोयला खनन और उसकी ढुलाई की जा रही है।
हालांकि आसनसोल से लेकर पुरुलिया व बांकुड़ा तक और झारखंड में धनबाद से लेकर रामगढ़ तक कोल पट्टी में स्थित कई खदानों में खनन का कार्य बंद था।

लेकिन खनन माफिया द्वारा अवैध तरीके से खनन का काम जारी था। पिछले साल नवंबर में CBI ने इस मामले में ECL , रेलवे और CISF के कई अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। लेकिन अनूप माझी उर्फ लाला मुख्य संदिग्ध हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *