बीएसएनएल के कर्मचारियों को केंद्र का अल्टीमेटम,  कहा-सही काम नहीं कर सकते तो कर लें नौकरी से बाय-बाय

दिन पर दिन प्रगति के रेस में Telecom Company  भी आए दिन नए नए बदलाव करती रहती हैं। आपको बता दें कि BSNL अभी भी अपने पुराने सरकारी ट्रेंड पर चल रही है। जिसको लेकर भारत के दूर संचार मंत्री ने बीएसएनएल के कर्मचारियों को हिदायत दी है।

दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहीं बड़ी बातें

आपको बता दें कि दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा है कि वे ‘सरकारी’ रवैया छोड़कर काम करें। इसी कड़ी में उन्होंने ये भी कहा है कि ऐसे कर्मचारी जो उम्मीदों के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर रहे हैं उन्हें अनिवार्य रूप से रिटायर होने और घर जाने के लिए तैयार रहना होगा।

दूरसंचार मंत्री ने दी चेताबनी

टीओआई की रिपोर्ट के मुताबिक, वैष्णव ने कथित तौर पर बीएसएनएल के 62,000 कर्मचारियों को चेतावनी दी है कि केंद्रीय मंत्री हाल ही में बीएसएनएल के रिवाइवल के लिए 1.64 लाख करोड़ रुपये के पैकेज लाए थे जिसे  केंद्र सरकार की ओर से मंजूरी मिल गई है। वरिष्ठ प्रबंधन के साथ एक बैठक में वैष्णव ने कहा कि आपको वह करना होगा जो आपसे अपेक्षित है नहीं तो आप नौकरी छोड़ दीजिए।

एमटीएनएल का ‘कोई भविष्य नहीं’ है-अश्विनी वैष्णव


रिपोर्ट के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि एमटीएनएल का ‘कोई भविष्य नहीं’ है। इसी कड़ी में उन्होंने कहा कि सरकार एमटीएनएल को लेकर बहुत कुछ नहीं कर सकती है। उन्होंने ये भी कहा कि सभी जानते हैं कि एमटीएनएल की बाधाएं क्या हैं। इसके सामने क्या समस्याएं आती हैं।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.