Janmashtmi 2022: अगर पहली बार मना रहें जन्माष्टमी तो इन बातों का रखें ध्यान, हमेशा बनी रहेगी श्रीकृष्ण की कृपा

janmashtmi

नई दिल्ली: भगवान कृष्ण का जन्मोत्सव 18 और 19 अगस्त को पूरे देशभर में मनाया जा रहा है। इस साल जन्माष्टमी दो दिन पड़ रही है जिसके कारण यह उत्सव भी दो दिन ही मनाया जा रहा है। इस साल की जन्माष्टमी के दिन वृद्धि और धुव्र योग बन रहे हैं जो काफी शुभ और फलदायी माने जाते है। अगर आप पहली बार घर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मना रहे हैं, तो इस विधि से करें कान्हा की पूजा, साथ ही जानिए शुभ मुहूर्त।  

भगवान श्रीकृष्ण को लगाएं स्पेशल भोग

जन्माष्टमी पर भगवान श्रीकृष्ण को स्पेशल भोग लगाए जाते हैं। मंदिरों में इस दिन भगवान श्रीकृष्ण के 56 व्यजंनों का भोग तैयार होता है। लेकिन कुछ ऐसी चीजें हैं जो भगवान श्रीकृष्ण को अतिप्रिय हैं और इन चीजों का भोग श्रीकृष्ण को लगाने से कान्हा प्रसन्न होते हैं। जन्माष्टमी पर श्रीकृष्ण को माखन-मिश्री, धनिया पंजीरी, मखाना पाग,खीरा, पंचामृत, लड्डू, पेड़े, खीर आदि चीजों का भोग जरूर लगाएं।

जन्माष्टमी के दिन न करें ये काम

कृष्ण जन्माष्टमी के दिन किसी का अपमान न करें।

मन में बुरा विचार न आने दें।

जन्माष्टमी के दिन काले रंग के कपड़े न पहनें।

बाल गोपाल को भोग लगाएं तो उसमें तुलसी जरूर हो।

जन्माष्टमी के दिन गाय की पूजा और सेवा करना शुभ माना जाता है।

जन्माष्टमी पूजा का मुहूर्त

श्रीकृष्ण पूजा का शुभ मुहूर्त-18 अगस्त रात्रि 12 बजकर 20 मिनट से 1 जबकर 5 मिनट तक है।

पूजा अवधि- 45 मिनट की है।

व्रत करने वालों के लिए पारण का समय- 19 अगस्त, रात्रि 10 बजकर 59 मिनट के बाद है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.