दो महीने में फिर सोना पहुंचा 50 हजार के पार, विदेशों में फीका पड़ा रेट

सोना पहनने का शौक रखने वालों के लिए कई दिनों से राहत भरी खबर सामने नहीं आ रही है। आपको बता दें कि आयात शुल्क में वृद्धि के बाद से ही सोने की कीमतों में जबर्दस्त उछाल देखा गया है। महज दो कारोबारी सत्र के अंतराल में सोना करीब 1,700 रुपये महंगा हो गया है। सोने की कीमत 52 हजार बढ़ने से सीधे तौर पर मार्केट पर प्रभाव पड़ा है। अगर आज की बात करें तो वायदा बाजार में ये रेट दो महीने के दौरान अपने अधिकम स्तर पर पहुंच गया है।

यह भी पढ़ें: CM योगी ने अपने 100 दिनों के ‘रिपोर्ट कार्ड’ में कहा- ‘प्रदेश के अंदर स्थापित हुआ कानून राज’

मल्‍टीकमोडिटी एक्‍सचेंज पर आज सुबह 24 कैरेट शुद्धता वाले सोने की वायदा कीमत 323 रुपये के उछाल के साथ 52,240 रुपये प्रति 10 ग्राम पहुंच गई है। आपको बता दें कि आज सुबह से ही बाजार में उठापटक देखने को मिली है। सोने के कारोबार की शुरुआत 52,050 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर से हुई थी।  लेकिन आयात शुल्क बढ़ने की वजह से जल्द ही इसमें उछाल दिखने को मिला है। सोना करीब 0.6 फीसदी की उछाल पर ट्रेडिंग कर रहा है। सरकार ने पिछले शुक्रवार को सोने पर आयात शुल्क 7.5 फीसदी से बढ़ाकर 12.5 फीसदी कर दिया था,  मार्केट के जानकारों की मानें तो सोने के दाम बढ़ने की वजह आयात शुल्क भी बढ़ गई है।

विदेशों के बाजार में आई सोने के दामों में गिरावट

ग्लोबल मार्केट में सोने-चांदी के साथ सभी कीमती धातुओं के दामों पर असर पड़ा है। उनकी कीमतों में गिरावट दिख रही है। अगर बात करें अमेरिकी बाजार की तो अमेरिकी बाजार में सोने का मूल्य आज 1,812.40 डॉलर प्रति औंस रहा जो अपने पिछले बाजार रेट से 0.03. गिरावटी रेट पर दर्ज किया गया है। इसी तरह चांदी की कीमत 19.86 डॉलर प्रति औंस पर आ गई, जो कि पिछले बंद भाव से 0.25 फीसदी कम है।

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र की शिंदे सरकार ने सदन में हासिल किया विश्वास मत, समर्थन में पड़े 164 वोट

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.