UP का सियासी खेल, करहल में सिर्फ अखिलेश बनाम बघेल, कांग्रेस ने हटाए दो प्रत्याशी, पढ़िए

Share

यूपी विधानसभा की सियासी लड़ाई अब वॉकओवर पर आ गई. कांग्रेस ने दो सीटों पर सपा को वॉकओवर दिया है. कांग्रेस ने दो विधानसभा सीटों से अपने प्रत्याशी को हटा लिया है. कांग्रेस ने करहल और जसवंतनगर सीट से अपने प्रत्याशी को नामांकन करने से रोक दिया है.

बता दे कि करहल सीट से अखिलेश यादव और जसवंतनगर सीट से शिवपाल यादव चुनाव लड़ रहे हैं. हालांकि, कांग्रेस ने करहल सीट पर अपना प्रत्याशी घोषित कर दिया था, लेकिन मंगलवार को नामांकन करने से रोक दिया. इस तरह से कांग्रेस ने चाचा-भतीजे दोनों को वॉकओवर दे दिया.

शिवपाल और अखिलेश को वॉकओवर

कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव और बृज क्षेत्र के प्रभारी रोहित चौधरी का कहना है कि कांग्रेस ने फैसला किया है कि करहल और जसवंतनगर सीट पर अपना प्रत्याशी नहीं उतारेंगे. इसीलिए करहल सीट पर पहले से घोषित कांग्रेस प्रत्याशी ज्ञानवती यादव को नामांकन करने से मना कर दिया गया. वहीं, जसवंतनगर सीट पर कांग्रेस ने किसी को भी प्रत्याशी घोषित नहीं किया था और कांग्रेस ने कहा अब हम उस सीट से चुनाव नहीं लड़ेंगे. करहल और जसंवतनगर दोनों ही सीट पर सपा को कांग्रेस समर्थन करेगी.

ज्ञानवती यादव को किया था प्रत्याशी घोषित

इससे पहले कांग्रेस ने अपनी पहली सूची में करहल विधानसभा क्षेत्र से महिला प्रत्याशी ज्ञानवती यादव को टिकट दिया था. सपा ने उस समय तक अखिलेश यादव को यहां से प्रत्याशी नहीं बनाया था. लेकिन, अब अखिलेश यादव के चुनाव लड़ने के निर्णय के बाद कांग्रेस ने तय किया है कि वो उनके खिलाफ कोई भी प्रत्याशी नहीं उतारेगी. ऐसे में मंगलवार को ज्ञानदेवी यादव को फोन करके कांग्रेस ने नामांकन करने से रोक दिया.

दरअसल, समाजवादी पार्टी गांधी परिवार के खिलाफ अमेठी और रायबरेली संसदीय सीट पर अपना उम्मीदवार नहीं उतारती है. सपा यह काम 2009 के लोकसभा चुनाव से कर रही है. ऐसे में कांग्रेस ने भी सपा मैनपुरी में मुलायम सिंह यादव और आजमगढ़ में अखिलेश यादव के खिलाफ प्रत्याशी नहीं दिया था. इतना ही नहीं कन्नौज सीट पर भी डिंपल यादव के खिलाफ किसी को प्रत्याशी नहीं बनाया था. जिसके बाद इन कुछ सीटों पर दोनों पार्टी अपना प्रत्याशी नहीं उतार रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *