सीमावर्ती क्षेत्रों को सुरक्षित रखने के लिए और बेहतर सुविधाएं देने के लिए ढेर सारी योजनाएं मोदी सरकार ने बनाई: अमित शाह

राजस्थान: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जैसलमेर में आयोजित सीमा सुरक्षा बल के 57वें स्थापना दिवस समारोह में सीमा सुरक्षा बल के कर्मियों को पदक प्रदान किए।

आज बीएसएफ का 57वां स्थापना दिवस

जैसलमेर में गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि आज़ादी मिले हुए 75 वर्ष हो गए हैं और पीएम मोदी जी ने इस वर्ष को अमृत महोसव के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। जब आज़ादी की शताब्दी होगी यानी आज से 25 साल तक तब 75 से 25 साल का ये कालखंड अमृतकाल के रूप में देखेगा भी और इसके लक्ष्य तय कर मनाएगा भी।

पहली बार आज बीएसएफ का स्थापना दिवस देश की सीमा के ज़िले में मनाने का निर्णय लिया गया

साथ ही जैसलमेर में सीमा सुरक्षा बल के 57वें स्थापना दिवस समारोह में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बोले आज बीएसएफ का 57वां स्थापना दिवस है। स्थापना के बाद पहली बार आज बीएसएफ का स्थापना दिवस देश की सीमा के ज़िले में मनाने का निर्णय लिया गया है। इस परंपरा को जारी रखना चाहिए।

गृह मंत्री ने कहा कि देश के पुलिस बल,BSF और CAPF के 35,000 से अधिक जवानों ने अलग-अलग जगह पर अपना बलिदान दिया है। मुझे गर्व है कि BSF इसमें अग्रणी है। मैं सर्वोच्च बलिदान देने वाले सभी जवानों को देश की तरफ से श्रद्धांजलि देता हूं। आज दुनिया का सबसे बड़ा सीमाओं की रक्षा करने वाला बल BSF है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.