स्वतंत्रता दिवस: कर्नाटक के शिवमोगा में वीर सावरकर के पोस्टर को लेकर बवाल, कई हिस्सों में कर्फ्यू

नई दिल्ली। कर्नाटक के शिवमोगा में बवाल होने की खबरें आ रही हैं। बताया जा रहा है कि मामला स्वतंत्रता दिवस पर अमीर अहमद सर्कल में वीर सावरकर का पोस्टर लगाए जाने से जुड़ा है। यहां कुछ लोगों ने पोस्टर का विरोध किया। सावरकर के पोस्टर हटाने के प्रयासों के विरोध के बाद कर्नाटक पुलिस ने शिवमोगा जिले के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू लागू कर दिया है। मेंगलुरु के सुरतकल चौराहे का नाम सावरकर के नाम पर रखने वाले एक बैनर को भी हटा दिया गया है।

शिवमोगा पुलिस ने बताया कि टीपू सुल्तान के अनुयायियों के एक समूह ने शहर के अमीर अहमद सर्कल में टीपू सुल्तान के बैनर लगाने के लिए वीडी सावरकर के बैनर हटाने की कोशिश के बाद सीआरपीसी की धारा 144 लागू कर दी गई है। पुलिस को हल्का हल्का लाठीचार्ज भी करना पड़ा। स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। 

इससे पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हडसन सर्किल में शनिवार रात को विभिन्न स्वतंत्रता सेनानियों की तस्वीरों वाले पोस्टर लगाए गए थे। इसमें टीपू सुल्तान का पोस्टर भी शामिल था। इन पोस्टर्स को अज्ञात लोगों ने नुकसान पहुंचाया। इसके बाद राज्य कांग्रेस प्रमुख डीके शिवकुमार ने घटनास्थल का दौरा किया। उन्होंने कहा था कि कोई राज्य में अशांति पैदा करने की कोशिश कर रहा है। वे कांग्रेस के स्वतंत्रता मार्च को पचा नहीं पा रहे हैं।

इस बीच कांग्रेस ने कर्नाटक की बोम्मई सरकार को भी घेरा था। दरअसल, बोम्मई सरकार ने समाचार पत्रों में विज्ञापन दिया था। इसमें स्वतंत्रता सेनानियों की सूची दी गई, लेकिन पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू का नाम शामिल नहीं किया गया। इस पर कांग्रेस ने कड़ी आपत्ति जताई थी। कांग्रेस नेता सिद्धरमैया ने मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का गुलाम होने का आरोप लगाया था।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.