गुजरात में सियासी उलट-फेर, विजय रूपाणी का मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा

गुजरात। गुजरात में विधानसभा चुनाव से 15 महीने पहले राजनीतिक हलचलें तेज हो गईं हैं। 7 अगस्त को 16वें मुख्यमंत्री के रूप में अपने 5 साल पूरे करने वाले विजय रूपाणी ने गुजरात के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। काफी लंबे समय से इस बात के कयास लगाए जा रहे थे कि बीजेपी मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को हटाकर किसी और को जिम्मेदारी दे सकती है। लेकिन फिर उनके पद पर बने रहने की खबर आ गई थी। लेकिन अब रूपाणी ने इस्तीफा देकर स्पष्ट कर दिया है कि अगला चुनावी चेहरा वो नहीं होंगे।

राज्यपाल को सौंपा इस्तीफा

शनिवार को रूपाणी ने राज्यपाल से मिलकर उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया। इस्तीफा सौंपने के बाद विजय रूपाणी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया और उसके बाद मीडिया से मुख़ातिब हुए।

मीडिया से की बात

मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि “मैंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। मैंने प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा अध्यक्ष के मार्गदर्शन में पार्टी के संगठन में काम करने की अपनी इच्छा शीर्ष नेतृत्व के सामने ज़ाहिर कर दी है। ‘मुझे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का समय-समय पर विशेष मार्गदर्शन मिलता रहा है। उनके नेतृत्व व मार्गदर्शन में गुजरात ने नए व ऊँचे आयामों को छुआ है। पिछले पांच सालों में मुझे भी गुजरात के विकास में योगदान करने का जो अवसर मिला है, उसके लिए मैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी का आभार व्यक्त करता हूँ। भाजपा प्रेक्षक यहाँ (गांधीनगर) आए थे और पार्टी जल्द ही नए मुख्यमंत्री के नाम पर फैसला करेगी।”

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.