महाराष्ट्र में भूकंप से हिली धरती, 3.6 रिक्टर स्केल मापी गई भूकंप की तीव्रता, सभी लोग सुरक्षित

आए दिन देश में भूकंप के झटको के मामले सामने आ रहें हैं। बीते कुच समय में देश के कई राज्यों में भूकंप ने लोगों के बीच डर भी पैदा कर दिया है। पहले नेपाल में भूकंप के झटके आने से 6 लोगों की मौत हो गई उसके बाद दिल्ली- एनसीआर, देहरादून, समेत उत्तर भारत के कई राज्यों में भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं और अब एक बार फिर देश में महाराष्ट्र के पालघर में एक बार फिर से धरती डोली है। पालघर जिले में आज तड़के भूकंप के झटके महसूस किए गए। अधिकारियों ने कहा कि इस भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 3.6 थी। हालांकि, अब तक इस भूकंप में कोई नुकसान या किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

जिला आपदा नियंत्रण कक्ष के एक अधिकारी ने बताया कि भूकंप के झटके बुधवार सुबह 4.04 बजे दहानू से 24 किलोमीटर पूर्व में 5 किमी की गहराई में दर्ज किए गए। अधिकारी ने कहा कि भूकंपीय गतिविधि के कारण किसी के हताहत होने या नुकसान की कोई रिपोर्ट नहीं है। नवंबर 2018 से पालघर में दहानू तालुका में कई झटके आए हैं, जिनमें से अधिकांश डुंडलवाड़ी गांव के आसपास केंद्रित हैं।

भूकंप आने पर क्या करें और क्या ना करें

1- अगर आप किसी इमारत के अंदर हैं तो फर्श पर बैठ जाएं और किसी मजबूत फर्नीचर के नीचे चले जाएं। अगर कोई मेज या ऐसा फर्नीचर न हो तो अपने चेहरे और सर को हाथों से ढंक लें और कमरे के किसी कोने में दुबककर बैठ जाएं।

2- अगर आप इमारत से बाहर हैं तो इमारत, पेड़, खंभे और तारों से दूर हट जाएं।                          

3- अगर आप किसी वाहन में सफर कर रहे हैं तो जितनी जल्दी हो सके वाहन रोक दें और वाहन के अंदर ही बैठे रहें।

4- अगर आप मलबे के ढेर में दब गए हैं तो माचिस कभी न जलाएं, न तो हिलें और न ही किसी चीज को धक्का दें।

5- मलबे में दबे होने की स्थिति में किसी पाइप या दीवार पर हल्के-हल्के थपथपाएं, जिससे कि बचावकर्मी आपकी स्थिति समझ सकें। अगर आपके पास कोई सीटी हो तो उसे बजाएं।

6- कोई चारा न होने की स्थिति में ही शोर मचाएं। शोर मचाने से आपकी सांसों में दमघोंटू धूल और गर्द जा सकती है।

7- अपने घर में हमेशा आपदा राहत किट तैयार रखें।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *