आधे घंटे से अधिक समय तक हवा में लटके रहे श्रद्धालु, प्रबंधन की सूझ-बूझ से टला त्रिकूट रोपवे जैसा बड़ा हादसा

MP: मध्य प्रदेश के सतना जिले में देवघर जैसा बड़ा हादसा होने से टल गया। बता दें आज शाम को मध्य प्रदेश के सतना जिले के मैहर देवी यानी मां शारदा शक्तिपीठ की है। जहां उस वक्त श्रद्धालुओं की जान पर बन आई जब तेज आंधी की वजह से रोपवे की 7 ट्रॉलियां हवा में ही अटक गई। खबरों के अनुसार इन 7 ट्रॉलियों में करीब 25 से 30 श्रद्धालु इसके अंदर मौजूद थे। देश के पूर्वी राज्यों में अचानक बदलते मौसम के मिजाज के कारण ये बड़ा हादसा होने से टल गया। बता दें सभी ट्रॉलियां हवा में करीब 30 से 40 मिनट तक फंसी रही। हालांकि इस घटना से हाल के दिनों में देवघर के त्रिकूट पर्वत पर हुए हादसे की याद ताजा हो गई।

हवा में अटकी श्रद्धालुओं की जिंदगी

सतना में आज देवघर के त्रिकूट जैसा एक बड़ा हादसा होने से बच गया। प्रशासन द्वारा मिली जानकारी के अनुसार मैहर देवी के दर्शन पूजन करने गए श्रद्धालु अचानक बीच हवा में फंस गए। जहां एक तरफ श्रद्धालुओं ने रोपवे पर सवार होकर मां के दर्शन की इच्छा लिए बैठ गए थे। लेकिन बदलते मौसम के कारण तेज आंधी आ गई और ट्रॉलियों में सवार सभी श्रद्धालु हवा में ही झूलते रह गए। हालांकि इस घटना की जानकारी मिलते ही तुरंत श्रद्धालुओं को जल्द से जल्द उन्हें नीचे उतारने के प्रयास में जुट गए। बता दें दामोदर रोपवे प्रबंधन ने अपनी सूझ-बूझ के साथ सभी ट्रॉलियों को धीरे-धीरे नीचे पहुंचाया और सभी श्रद्धालुओं को सुरक्षित उतारा गया।

देवघर में भी बीते महीने हुआ था रोपवे हादसा

देवघर के त्रिकूट में भी पिछले महीने एक बड़ा रोपवे हादसा हो गया था। जिसमें  NDRF और सेना के जवानों को रेस्क्यू के लिए लगाया गया था। त्रिकूट हादसे में 48 लोग हवा में करीब 24 घंटे से ज्यादा समय तक अटके रहे थे। देवघर के त्रिकूट रोपवे हादसा में दो ट्रॉलियां आपस में टकरा गई थी।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.