Delhi MCD: फिर टला मेयर का चुनाव, जानें क्यों

दिल्ली नगर निगम ने आज अपने आने वाले 10 सालों के लिए मेयर का चुनाव किया है। आपको बता दें कि आज आम आदमी पार्टी ने जीत का परचम लहराया है। सियासत के इस मैदानी जंग में आप की ओर से शैली ओबेरॉय को उतारा गया था। आप ने 250 में 134 सीटों को अपने नाम किया है। हालांकि, केंद्र की भारतीय जनता पार्टी केवल 104 सीटों को ही अपने नाम कर पाई। आपको बता दें कि बीजेपी ने अपनी उम्मीदवार रेखा गुप्ता पर दाव खेला था। 

चुनाव के समय तैनात किया गया अर्धसैनिक बल

एमसीडी चुनाव को देखते हुए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। पैरा फोर्स के साथ-साथ सिविल डिफेंस वालंटियर को भी सुरक्षा का काम सौंपा गया था। वहीं, आपको बता दें कि सदन के बाहर दिल्ली पुलिस को भी तैनत क्या गया था। इस पर आम आदमी पार्टी की ओर से बयान सामने आया है। दरअसल, पार्टी के नेता सौरभ भारद्वाज का कहना है कि बीजेपी ऐसा करके उन्हें हाईजैक करने की कोशिश कर रही है। उन्होंने ये भी कहा है कि ये एक तरह की गुंडागर्दी है और सदन में हथियारों को अंदर ले जाने पर रोक है। उनका कहना है कि अर्धसैनिक बल को सदन में आने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए थी।

इससे पहले क्यों रद्द हुए थे चुनाव?

जानकारी के अनुसार, दिल्ली एमसीडी के लिए 6 जनवरी की तारीख तय की गई थी। उसी दिन मेयर, डिप्टी मेयर और स्टैंडिंग कमेटी के लिए वोटिंग होनी थी। हाथापाई के कारण तय की गई तारीख को टालना पड़ा था, जिसके बाद दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने मंगलवार यानी 24 जनवरी की नई तारीख तय की थी।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *